Ajnala incident पर बोले पंजाब के DGP, करेंगे क़ानूनी कार्रवाई, 6 पुलिस कर्मी हुए थे घायल

Punjab DGP
ANI
अंकित सिंह । Feb 24, 2023 6:33PM
डीजीपी ने आगे बताया कि कल की घटना पर हम क़ानूनी कार्रवाई करेंगे। घायल पुलिस अधिकारियों के बयान दर्ज़ किए जाएंगे। हम वीडियो साक्ष्यों को भी देख रहे हैं। गौरव यादव के मुताबिक उन्होंने स्थानीय पुलिस से संपर्क किया था और प्राथमिकी की सत्यता पर संदेह जताया था।

पंजाब के अमृतसर में अजनाला थाने का गुरुवार को वारिस पंजाबी दे समर्थकों ने घेराव कर लिया था। अमृतपाल सिंह के करीबी लवप्रीत तूफान को रिहा करने की मांग को लेकर जबरदस्त हंगामा मचाया गया। इस क्रम में 6 पुलिसकर्मी घायल हो गए। बताया जा रहा है कि अमृतपाल सिंह के समर्थक अजनाला थाने तक बंदूक और तलवार लेकर पहुंचे थे। पूरी घटना को लेकर पंजाब के डीजीपी गौरव यादव का बयान सामने आ गया है। अपने बयान में डीजीपी ने कहा कि उन्होंने शांतिपूर्ण प्रदर्शन की अनुमति मांगी थी जो हमने उनको दी। उन्होंने भरोसा दिलाया था कि वह पुलिस के रोकने पर रुक जाएंगे। जिसके बाद पुलिस पर गुरु ग्रंथ पालकी साहिब की आड़ में पुलिस पर धारदार हमला किया जिसमें 6 पुलिस कर्मी घायल हुए।

इसे भी पढ़ें: पंजाब की हालिया कुछ घटनाएं साधारण अपराध नहीं बल्कि राज्य को आतंक की राह पर धकेलने का प्रयास हैं

डीजीपी ने आगे बताया कि कल की घटना पर हम क़ानूनी कार्रवाई करेंगे। घायल पुलिस अधिकारियों के बयान दर्ज़ किए जाएंगे। हम वीडियो साक्ष्यों को भी देख रहे हैं। गौरव यादव के मुताबिक उन्होंने स्थानीय पुलिस से संपर्क किया था और प्राथमिकी की सत्यता पर संदेह जताया था। उन्हें निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया गया। एसएसपी अमृतसर ग्रामीण ने बताया कि उन्हें आश्वासन दिया गया था कि वे (प्रदर्शनकारी) जहां भी रोकेंगे, रुकेंगे। लेकिन उस दिन पुलिस पर हमला किया गया था, धारदार हथियारों का इस्तेमाल किया गया था, पथराव किया गया था। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि गुरु ग्रंथ साहिब की मर्यादा बनाए रखने के लिए पुलिस ने बेहद संयम से काम लिया। पुलिस की आड़ में हमला करना कायरता का काम था। 

इसे भी पढ़ें: Punjab: लवप्रीत तूफान को अमृतसर जेल से किया गया रिहा, बवाल पर बोले मंत्री- लोगों को सरकार पर विश्वास होना चाहिए

पंजाब डीजीपी ने कहा कि वहां मौजूद अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी जुगराज सिंह को 11 टांके लगे। उसे धारदार हथियारों से मारा गया था। अजनाला कांड पर प्रदेश मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पंजाब के लोगों को सीएम भगवंत मान पर भरोसा रखना चाहिए। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि पंजाब में कानून व्यवस्था को बिगाड़ने की कोशिश करने वाले के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि मैं पंजाब पुलिस के जवानों को सलाम करता हूं, जिन्होंने गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान नहीं होने दिया और बिना बल प्रयोग के स्थिति को नियंत्रित किया। सरकार भीड़ में घायल हुए अपने कर्मचारियों के साथ है। समय आने पर लोग समझेंगे कि अजनाला में क्या हुआ। 

अन्य न्यूज़