नए अध्यक्ष के चुनाव तक पद पर बने रहेंगे राहुल गांधी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 3 2019 8:41PM
नए अध्यक्ष के चुनाव तक पद पर बने रहेंगे राहुल गांधी
Image Source: Google

राहुल गांधी के इस्तीफे की औपचारिक घोषणा के बाद कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने बुधवार को कहा कि गांधी ने भले ही पार्टी अध्यक्ष पद से त्यागपत्र दे दिया हो, लेकिन वह उनके नेता बने रहेंगे।

नयी दिल्ली। राहुल गांधी के इस्तीफे की औपचारिक घोषणा के बाद कांग्रेस सूत्रों ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की ओर से त्यागपत्र स्वीकार करने और नए अध्यक्ष का चुनाव होने तक गांधी इस पद पर बने रहेंगे। लोकसभा चुनाव के बाद से अपने इस्तीफे को लेकर बनी असमंजस की स्थिति और अटकलों पर विराम लगाते हुए गांधी ने बुधवार को त्यागपत्र की औपचारिक घोषणा कर दी और पार्टी को सुझाव दिया कि नया अध्यक्ष चुनने के लिए एक समूह गठित किया जाए क्योंकि उनके लिए यह उपयुक्त नहीं है कि इस प्रक्रिया में शामिल हों। चुनावी हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी की ‘‘भविष्य के विकास’’ के लिए उनका इस्तीफा देना जरूरी था।

इसे भी पढ़ें: राहुल का इस्तीफे वाला पत्र, 90 वर्षीय वोरा फूंकेंगे कांग्रेस में नई जान!

कांग्रेस नेताओं ने कहा: हमारे नेता बने रहेंगे राहुल
 


राहुल गांधी के इस्तीफे की औपचारिक घोषणा के बाद कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने बुधवार को कहा कि गांधी ने भले ही पार्टी अध्यक्ष पद से त्यागपत्र दे दिया हो, लेकिन वह उनके नेता बने रहेंगे। पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने ट्वीट कर कहा, ‘‘राहुल गांधी का अपने इस्तीफ के बारे में दिया गया बयान कांग्रेस के लाखों कार्यकर्ताओं को भावनात्मक रूप से छूने वाला है। सभी वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं की इच्छा थी कि वह अध्यक्ष बने रहें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘राहुल जी ने चुनाव में पार्टी का बेहतरीन ढंग से नेतृत्व किया। पार्टी की हार के कारण उनके नेतृत्व के प्रति हमारे प्रेम और सम्मान में कोई कमी नहीं आई है।’’ 
 


राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा, ‘‘ हम चाहते हैं कि राहुल गांधी जी अध्यक्ष बने रहें क्योंकि हम उनके संघर्ष को जानते हैं।’’ पार्टी के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने कहा, ‘‘ उन्होंने भले ही इस्तीफा दे दिया है, लेकिन वह नेता बने रहेंगे।’’ लोकसभा चुनाव के बाद से अपने इस्तीफे को लेकर एक महीने से बनी असमंजस की स्थिति पर पूर्णविराम लगाते हुए गांधी ने बुधवार को त्यागपत्र की औपचारिक घोषणा कर दी और कहा कि पार्टी के ‘भविष्य के विकास’ के लिए उन्होंने यह कदम उठाया है।


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video