करारी शिकस्त के बाद तेजस्वी की वापसी, ''गायब'' होने के सवाल पर तोड़ी चुप्पी

return-of-tejasvi-yadav-in-politics
अंकित सिंह । Jun 29, 2019 10:47AM
पिछले कई दिनों से सक्रिय राजनीति से दूर रहे तेजस्वी लगातार अपने विरोधियों के निशाने पर रहे। बिहार में चमकी बुखार के कहर के बावजूद तेजस्वी सार्वजनिक तौर पर बाहर नहीं आए।

लोकसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद RJD के युवा नेता और बिहार में महागठंधन की कमान संभालने वाले तेजस्वी यादव ने आज अपनी चुप्पी तोड़ी है। पिछले कई दिनों से सक्रिय राजनीति से दूर रहे तेजस्वी लगातार अपने विरोधियों के निशाने पर रहे। बिहार में चमकी बुखार के कहर के बावजूद तेजस्वी सार्वजनिक तौर पर बाहर नहीं आए। आज उन्होंने ट्वीट कर इसका जवाब दिया है। उन्होंने लिखा पिछले कुछ हफ्तों से मैं अपने चोट के इलाज में व्यस्त था। हालांकि, मैं राजनीतिक विरोधियों के साथ-साथ मसालेदार कहानियों को पकाने वाले मीडिया के एक वर्ग को देखकर मजा ले रहा हूं।

तेजस्वी ने एक के बाद एक चार ट्वीट कर कहा कि हम उन लोगों के प्रति जवाबदेह हैं, जो हम में एक समाजवादी-धर्मनिरपेक्ष और सामाजिक न्याय के विकल्प की तलाश करते हैं और यह विश्वास दिलाना चाहते हैं कि हमारी लड़ाई जारी है। लिया घटनाक्रम से मुझको अलग तरीके से चीजों के अध्ययन करने, विश्लेषण करने और मूल्यांकन करने में मदद मिली

उन्होंने आगे कहा कि चमकी बुखार के कारण सैकड़ों गरीब बच्चों की असामयिक मौत हो गई। इस दुखद क्षण में पार्टी के कार्यकर्ताओं, नेताओं से बिना किसी फोटोबाजी किए पीड़ित परिवारों के घर जाने को कहा गया। इसके अलावा सांसदों से इस मामले को संसद में उठाने को कहा गया. मेरे प्रिय बिहार! मैं यही हूं।'

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़