Veer Savarkar vs Tipu Sultan Poster | शिवमोग्गा में एक हिन्दू शख्स की चाकू से गोदकर हत्या, चार विशेष धर्म के आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Shivamogga
ANI
रेनू तिवारी । Aug 16, 2022 10:11AM
कर्नाटक पुलिस ने मंगलवार को शिवमोग्गा जिले में सोमवार को हुई चाकूबाजी के मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने अब तक गिरफ्तार किए गए चार लोगों में से तीन की पहचान नदीम (25), अब्दुल रहमान (25) और जबीउल्लाह के रूप में की है।

पिछले कुछ समय से कर्नाटक में माहौल काफी खराब है। बीजेपी के नेता की हत्या के बाद महौल काफी गर्माया हुआ था। कर्नाटक के कई इलाको में सुरक्षा काफी टाइट कर दी गयी। 144 धारा भी लागू है। ऐसे में भी कर्नाटक में शिवमोग्गा में गांधी बाजार इलाके में प्रेम सिंह नाम के एक व्यक्ति को चाकू मार दिया गया था। सावरकर और 18वीं सदी के मैसूर के शासक टीपू सुल्तान का फ्लेक्स लगाने को लेकर सोमवार को दो गुट आपस में भिड़ गए, जिसके बाद इस हत्या को अंजाम दिया गया था। पुलिस इस हत्या के पीछे किसका हाथ है, क्या यह सोची समझी साजिश है, आखिर कहा चूक हुई, जैसे कारणों की तलाश कर रही हैं। 

इसे भी पढ़ें: BJP विधायक और नीतीश सरकार के पूर्व मंत्री सुभाष सिंह का निधन, तबियत बिगड़ने पर कराया गया था AIIMS में भर्ती

कर्नाटक पुलिस ने मंगलवार को शिवमोग्गा जिले में सोमवार को हुई चाकूबाजी के मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने अब तक गिरफ्तार किए गए चार लोगों में से तीन की पहचान नदीम (25), अब्दुल रहमान (25) और जबीउल्लाह के रूप में की है। जबीउल्लाह के पैर में गोली लगी जब वह पुलिस से बचने की कोशिश कर रहा था।

इसे भी पढ़ें: उपेंद्र कुशवाहा शपथग्रहण समारोह में नहीं होंगे शामिल, 30 सदस्यीय सूची में नाम नहीं होने से बताए जा रहे नाराज

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, आलोक कुमार ने कहा कि नदीम 2016 में शिवमोग्गा में गणेश जुलूस के दौरान हुई सांप्रदायिक झड़पों में शामिल था। आलोक कुमार ने कहा, वह वही था जिसने चप्पल फेंकी थी। उन्होंने कहा कि पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों का किसी संगठन से संबंध तो नहीं है। आलोक कुमार ने कहा कि ऐसा लग रहा था कि घटना सुनियोजित थी।

स्वतंत्रता दिवस पर अमीर अहमद सर्कल में विनायक दामोदर सावरकर के पोस्टर लगाने को लेकर विवाद के कुछ घंटे बाद शिवमोग्गा के गांधी बाजार इलाके में प्रेम सिंह नाम के एक व्यक्ति को चाकू मार दिया गया था। सावरकर और 18वीं सदी के मैसूर के शासक टीपू सुल्तान का फ्लेक्स लगाने को लेकर सोमवार को दो गुट आपस में भिड़ गए।

गिरफ्तार चार लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 307 (हत्या का प्रयास) के तहत मामला दर्ज किया गया है। घटना के बाद शिवमोग्गा के जिला कलेक्टर आर सेल्वामणि ने मंगलवार को शहर और भद्रावती शहर की सीमा में स्कूल और कॉलेज बंद करने का आदेश दिया। उन्होंने कहा कि इन दोनों जगहों पर 18 अगस्त तक निषेधाज्ञा लागू रहेगी। उन्होंने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है। इस बीच, पुलिस को तैनात किया गया है और यह सुनिश्चित करने के लिए सीसीटीवी कैमरों की निगरानी की जा रही है कि कोई अप्रिय घटना न हो।

अन्य न्यूज़