आरआरबी-एनटीपीसी परीक्षा विरोध: छात्र संगठनों के समर्थन में विपक्षी दलों ने किया प्रदर्शन

RRB-NTPC exam
आरआरबी-एनटीपीसी परीक्षा प्रक्रिया विरोध में छात्र संगठनों द्वारा आहूत बिहार बंद के समर्थन में विपक्षी दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार प्रदर्शन किया और ट्रेनों को बाधित करने के साथ सड़क पर टायर जलाया।

पटना। आरआरबी-एनटीपीसी परीक्षा प्रक्रिया विरोध में छात्र संगठनों द्वारा आहूत बिहार बंद के समर्थन में विपक्षी दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार प्रदर्शन किया और ट्रेनों को बाधित करने के साथ सड़क पर टायर जलाया। बिहार की राजधानी पटना में भिखना पहाड़ी मोड़ पर राजद कार्यकर्ताओं ने टायर जलाकर प्रदर्शन किया और सरकार विरोधी नारे लगाए। पटना विश्वविद्यालय के समीप डाकबंगला चौराहे पर जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बंद के समर्थन में प्रदर्शन किया। जन अधिकार पार्टी (जाप) के संरक्षक राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने बृहस्पतिवार को ट्वीट कर कहा था, ‘‘फिर धोखा दिया सरकार!

इसे भी पढ़ें: लांबी सीट से छठी बार चुनाव लड़ेंगे 94 साल के प्रकाश सिंह बादल, सबसे कम उम्र और सबसे उम्रदराज मुख्यमंत्री रह चुके हैं

इसलिए कल हम करेंगे बिहार बंद!’’ उन्होंने कहा था, ‘‘रेलवे एनटीपीसी की बहाली में धांधली की जांच कमेटी सिर्फ उत्तर प्रदेश चुनाव तक मुद्दे को टालने की कोशिश है। 15 दिन में जांच क्यों नहीं। वहीं शिक्षकों छात्रों पर फर्जी मुकदमा कर फंसाया जा रहा है। यह भाजपा सरकार के ताबूत में आखिरी कील साबित होगी।’’ दरभंगा रेलवे स्टेशन पर अखिल भारतीय छात्र संघ (आइसा) और बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राजद के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली जाने वाली संपर्क क्रांति एक्सप्रेस ट्रेन को रोक दिया। प्रदर्शकारी ट्रेन को रोककर पटरी पर ही सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे जिन्हें रेल पुलिस द्वारा समझाने का प्रयास किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: उपराष्ट्रपति, लोकसभा अध्यक्ष ने स्वतंत्रता सेनानी लाला लाजपत राय को श्रद्धांजलि अर्पित की

मुजफ्फरपुर में छात्र संगठनों के बिहार बंद के समर्थन में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 57 और 28 पर राजद जिला अध्यक्ष के नेतृत्व में राजद विधायक इस्राइल मंसूरी और निर्जन राय ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ टायर जलाकर विरोध-प्रदर्शन किया। बेगूसराय में राजद, आइसा, जाप समेत अन्य विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 31 पर धरना देने से यातायात बाधित रहा। जहानाबाद शहर अंबेडकर चौक के निकट जहानाबाद सदर के राजद विधायक सुदय यादव और मखदुमपुर में राजद विधायक सतीश दास के नेतृत्व में राजद समर्थकों ने सड़क पर टायर जलाकर सड़क जाम किया और सरकार विरोधी नारे लगाए।

मधेपुरा में बंद समर्थकों द्वारा कई स्थानों पर सड़क जाम किए जाने से आवागमन बाधित रहा। कटिहार जिला में बंद समर्थकों ने राष्ट्रीय राजमार्ग 31 को जाम किया। भागलपुर शहर में राजद, कांग्रेस, भाकपा एवं माकपा सहित अन्य विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। शिवहर जिला में राजद विधायक संजय कुमार गुप्ता सहित पार्टी के अन्य कार्यकर्ता सड़क पर उतरे और सीवर नगर के जीरो माइल चौक जाम कर आवागमन बाधित किया। बक्सर जिलें में राष्ट्रीय राजमार्ग 84 पर बेलाउर और दलसागर के बीच वामदलों के कार्यकर्ताओं ने सड़क पर टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया।

रेलवे भर्ती बोर्ड की परीक्षा प्रक्रिया में कथित अनियमितताओं के विरोध में आइसा समेत अन्य छात्र संगठनों के 28 जनवरी को बिहार बंद के आह्वान का महागठबंधन में शामिल सभी विपक्षी दलों ने समर्थन किया है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने बृहस्पतिवार की देर शाम ट्वीट किया, ‘‘बिहार-उत्तरप्रदेश व अन्य राज्यों में छात्रों का उत्तेजक होना आरआरबी-एनटीपीसी परीक्षा प्रक्रिया व परिणाम में गड़बड़ी के विरुद्ध प्रतिक्रिया है। रेलवे भर्ती बोर्ड की गड़बड़ियों को देखने के लिए जांच कमिटी बनाई गई है। छात्रों-उम्मीदवारों के साथ अतिशीघ्र न्याय की उम्मीद करता हूं।’’

उन्होंने यह भी कहा था, ‘‘पटना में खान कोचिंग सहित अन्य कई कोचिंग संस्थान ऑनलाइन माध्यम से बिहार व देशभर के गरीब व होनहार युवाओं का भविष्य निर्माण करते हैं। रेलवे, पुलिस इनलोगों के विरुद्ध दर्ज मुकदमों को अविलंब वापस ले। उग्र छात्रों से शांति की अपील करता हूं।’’ बिहार में सत्ता में शामिल विकासशील इंसान पार्टी (वीआइपी) के प्रमुख और प्रदेश के मंत्री मुकेश सहनी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘रेलवे एनटीपीसी व ग्रुप डी परीक्षा के रिजल्ट में धांधली के खिलाफ छात्र-युवाओं के तरफ से 28 जनवरी को बिहार बंद के आह्वान का वीआइपी पार्टी समर्थन करती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘छात्रों के अधिकारों के इस लड़ाई में मैं और वीआइपी पार्टी पूरी तरह से छात्रों के साथ खड़ी है।’’ लोकजनशक्ति पार्टी (रामविलास) के प्रमुख चिराग पासवान ने ट्वीट कर कहा, ‘‘छात्रों को अपने हक के लिए शांतिपूर्वक संघर्ष करना चाहिए। मैं और मेरी पार्टी छात्रों का समर्थन करती है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘जिस छात्र राजनीति को कर के नीतीश कुमार आज बिहार के मुख्यमंत्री बने है।आज उन्हीं छात्रों को पुलिस द्वारा बेरहमी से पिटवा के छात्रों के जीवन का गला घोट दिया। इतिहास याद रखेगा नीतीश कुमार को छात्रों के प्रति इस आतंकवादी रवैए को।’’ चिराग ने कहा, ‘‘बिहार में प्रदर्शनकारी छात्रों पर बिहार पुलिस की बर्बरतापूर्ण करवाई की निंदा करता हूँ। लोजपा (रामविलास) छात्रों की जायज मांगों का समर्थन करती है। लेकिन हम छात्रों से अपील करते हैं कि वे शांतिपूर्ण ढंग से अपना आंदोलन चलाएं। क्योंकि हिंसा से किसी समस्या का समाधान नहीं हो सकता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़