अश्विनी चौबे के बयान पर संजय राउत का तंज, 'योगी चालीसा' पढ़ने की दी सलाह

अश्विनी चौबे के बयान पर संजय राउत का तंज, 'योगी चालीसा' पढ़ने की दी सलाह
ANI

संजय राउत ने अश्विनी कुमार चौबे के बयान पर तंज कसते हुए कहा कि उनको बालासाहेब जी की चिंता करने की ज़रूरत नहीं है। हनुमान चालीसा के नाम पर आप राजनीति कर देश को बांटने और महाराष्ट्र को बदनाम करने का काम कर रहे हैं और हम आपसे लड़ रहे हैं यह देख कर बालासाहेब जरूर खुश होंगे।

भाजपा के केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा था कि हनुमान को चालीसा पढ़ने के लिए किसी को गिरफ्तार किया जा रहा है। अगर बालासाहेब ठाकरे आज जिंदा होते तो उनकी आंखों में आंसू आ जाते। इस पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा, ''उन्हें बालासाहेब ठाकरे की चिंता करने की जरूरत नहीं है। जिसकी मंशा हनुमान चालीसा के नाम पर देश में दंगा भड़काने की है। शिवसेना उनसे लड़ रही है। इसी वजह से बालासाहेब ठाकरे हम पर पुष्पवर्षा कर रहे होंगे। संजय राउत ने अश्विनी कुमार चौबे के बयान पर तंज कसते हुए कहा कि उनको बालासाहेब जी की चिंता करने की ज़रूरत नहीं है। हनुमान चालीसा के नाम पर आप राजनीति कर देश को बांटने और महाराष्ट्र को बदनाम करने का काम कर रहे हैं और हम आपसे लड़ रहे हैं यह देख कर बालासाहेब जरूर खुश होंगे।

इसे भी पढ़ें: दूसरी पारी में काफी बदले-बदले हुए नजर आ रहे हैं योगी आदित्यनाथ

उन्होंने आगे कहा कि हनुमान के खिलाफ माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के क्या बयान हैं। हनुमान दलित है उनकी पूजा करने की जरूरत नहीं ऐसा योगी जी का वक्तव्य था, तो आप कब से बजरंग बली के प्रेमी बन गए?  ऐसे बयान देने वाले अगर हनुमान चालीसा की बात कर रहे हैं तो अश्विनी कुमार चौबे को एक बार फिर 'योगी चालीसा' पढ़नी चाहिए। महाराष्ट्र राम और हनुमान का उपासक है। आपने उनके साथ जो बेईमानी की, उस पर बालासाहेब ठाकरे की आंखों में आंसू आ गए होंगे। 

इसे भी पढ़ें: आज पुणे से औरंगाबाद तक मार्च, कल होगी भव्य रैली, इन 16 शर्तों के साथ राज ठाकरे को मिली सभा की इजाजत

बता दें कि अमरावती से सांसद नवनीत राणा और निर्दलयी विधायत रवि राणा की गिरफ्तारी को लेकर केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा था। अश्विनी कुमार चौबे ने कहा था कि बाल ठाकरे (उद्धव के दिवंगत पिता) की आत्मा को 'हनुमान चालिसा' का पाठ करने के लिए गिरफ्तारी करने पर ठेस पहुंची होगी। केंद्रीय मंत्री ने पुणे में संवाददाताओं से कहा, "हाल ही में, मैंने देखा है कि हनुमान चालीसा का पाठ करने या भगवान राम का नाम लेने के लिए गिरफ्तारियां की गईं। इससे ठाकरे साहब (दिवंगत शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे) की आत्मा को ठेस पहुंची होगी। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...