संत रविदास ने सनातन धर्म को मजबूती प्रदान की: योगी आदित्‍यनाथ

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 27, 2021   17:55
संत रविदास ने सनातन धर्म को मजबूती प्रदान की: योगी आदित्‍यनाथ

योगी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को उद्धृत करते हुए कहा आदमी न छोटा होता है, न बड़ा होता है, न ऊंचा होता है, न नीचा होता है, आदमी तो सिर्फ आदमी होता है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शनिवार को कृष्‍णानगर में संत रविदास मंदिर में उनकी प्रतिमा पर पुष्‍पांजलि अर्पित करते हुए कहा कि उन्होंने जीवनपर्यन्त तमाम प्रकार के पाखण्डों का सामना करते हुए सनातन धर्म को मजबूती प्रदान की। योगी आदित्‍यनाथ ने शनिवार को प्रदेश वासियों को संत रविदास जयंती और माघी पूर्णिमा की हार्दिक बधाई और शुभकामना देते हुए कहा, रविदास जी ने कहा था कि मन चंगा तो कठौती में गंगा। यदि हम अन्तःकरण से शुद्ध हैं, तो साधना का प्रतिफल भी उसी रूप में प्राप्त होता है।

उन्‍होंने कहा कि सन्त रविदासने जीवनपर्यन्त तमाम प्रकार के पाखण्डों का सामना करते हुए सनातन धर्म को मजबूती प्रदान करने का कार्य किया। यहां जारी एक सरकारी बयान के अनुसार इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने राजधानी लखनऊ के कैण्ट क्षेत्र के विधायक सुरेश चन्द्र तिवारी से कृष्‍णनगर में सन्त रविदास मन्दिर के सौन्दर्यीकरण की योजना बनाकर प्रस्तुत करने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि 645 वर्ष पूर्व महान सन्त रविदास का प्राकट्य हुआ था, जिन्होंने काशी की धरती पर जन्म लेकर भारत के सनातन धर्म की परम्परा को नयी ऊँचाइयां दीं। 

इसे भी पढ़ें: प्रियंका गांधी ने रविदास जयंती पर सीरगोवर्धन स्थित मंदिर में पूजा अर्चना की, महंत सन्त निरंजन दास से लिया आशीर्वाद

योगी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को उद्धृत करते हुए कहा आदमी न छोटा होता है, न बड़ा होता है, न ऊंचा होता है, न नीचा होता है, आदमी तो सिर्फ आदमी होता है। यह भाव हम सब इस रूप में देख रहे हैं कि व्यक्ति अपने कर्मों के माध्यम से कैसे महानता हासिल करता है और कैसे लोकपूज्य हो सकता है। सन्त रविदास जी का जीवन चरित्र हम सबको इस बात की प्रेरणा प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा काशी स्थित सन्त रविदास जी की जन्मस्थली का सौन्दर्यीकरण कराया जा रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...