गिरिराज के लिए शाह का बंपर प्रचार, कन्हैया पर किया कड़ा प्रहार

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 24 2019 3:51PM
गिरिराज के लिए शाह का बंपर प्रचार, कन्हैया पर किया कड़ा प्रहार
Image Source: Google

बेगूसराय में गिरिराज सिंह का मुकाबला राजद के तनवीर हसन और भाकपा के कन्हैया कुमार से है। शाह ने कहा, ‘‘इस चुनाव में मुद्दा विकास का है, गरीब कल्याण का है। लेकिन बेगूसराय की जनता की यह भी जिम्मेदारी है कि टुकड़े-टुकड़े गैंग को यहां से परास्त कर उल्टे पैर वापस भेजा जाए।’’

बेगूसराय। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेन्स एक साथ हैं और ऐसे लोगों के साथ है जो कहते हैं कि कश्मीर का अलग प्रधानमंत्री होना चाहिए, लेकिन कश्मीर को भारत से कोई अलग नहीं कर सकता। बेगूसराय में भाजपा उम्मीदवार एवं केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के समर्थन में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस के साथ इस चुनाव में नेशनल कांफ्रेंस भी आई है। ये कश्मीर को भारत से अलग करने की साजिश करने वालों के साथ हैं। उन्होंने जोर दिया कि ऐसे लोग कहते हैं कि कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री होना चाहिए। लेकिन जब तक भाजपा के एक भी कार्यकर्ता के शरीर में प्राण है तब तक कश्मीर को भारत से कोई अलग नहीं कर सकता। कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। 

इसे भी पढ़ें: शाह ने बिहार कि जनता से किया वादा, चुनाव के बाद पूर्ण विकसित राज्य बनेगा बिहार

बेगूसराय में गिरिराज सिंह का मुकाबला राजद के तनवीर हसन और भाकपा के कन्हैया कुमार से है। शाह ने कहा, ‘‘इस चुनाव में मुद्दा विकास का है, गरीब कल्याण का है। लेकिन बेगूसराय की जनता की यह भी जिम्मेदारी है कि टुकड़े-टुकड़े गैंग को यहां से परास्त कर उल्टे पैर वापस भेजा जाए।’’ कन्हैया के संदर्भ में उन्होंने कहा, ‘‘यह दिनकर जी की भूमि है, यहां राष्ट्रद्रोहियों के लिए कोई जगह नहीं है ।’’ कांग्रेस अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा ‘‘राहुल बाबा आतंकियों से ईलू-ईलू करना चाहते हैं। राहुल बाबा, आपकी नीति आपको मुबारक। हमारी नीति स्पष्ट है, वहां से गोली आएगी तो यहां से गोला दागा जायेगा ।’’

इसे भी पढ़ें: बेगुसराय का रण: गिरिराज-तनवीर के खिलाफ कन्हैया कुमार ने भरा नामांकन



भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब बालाकोट में एयर स्ट्राइक कराई, तो देश में उत्सव का माहौल था, मिठाई बंट रही थी। लेकिन दो जगह मातम छाया था, एक तो पाकिस्तान में और दूसरा राहुल बाबा और महागठबंधन के नेताओं के वहां। ‘‘इतना ही नहीं, ये लोग एयर स्ट्राइक का सबूत भी मांगने लगे।’’



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video