Shraddha Murder: आज भी नहीं हो सका आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट, पुलिस ने बताई ये वजह

Aftab
ANI
अंकित सिंह । Nov 23, 2022 9:23PM
पुलिस की ओर से इसका कारण भी बताया गया है। जानकारी के मुताबिक आफताब की आज तबियत ठीक नहीं थी। पुलिस को लगता है कि आज अगर टेस्ट किया जाता तो रिपोर्ट प्रभावित हो सकती थी। यही कारण है कि अफताब के पॉलीग्राफ टेस्ट को अब गुरुवार को किया जाएगा।

श्रद्धा मर्डर केस में रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं। पुलिस लगातार मामले की जांच कर रही है। इस मामले को लेकर अब तक पुलिस के हाथ कोई ठोस सबूत तो नहीं लगा है। लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि पुलिस कहीं ना कहीं इस केस को अंजाम तक पहुंचाने की कोशिश में जुटी हुई है। इसी कड़ी में श्रद्धा मर्डर केस में आरोपी आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट भी कराया जाना था। कोर्ट ने इसके पहले ही इजाजत दे दी थी। हालांकि, आज भी आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट नहीं हो पाया। पुलिस की ओर से इसका कारण भी बताया गया है। जानकारी के मुताबिक आफताब की आज तबियत ठीक नहीं थी। पुलिस को लगता है कि आज अगर टेस्ट किया जाता तो रिपोर्ट प्रभावित हो सकती थी। यही कारण है कि अफताब के पॉलीग्राफ टेस्ट को अब गुरुवार को किया जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: HIT The Second Case Trailer | Adivi Sesh की फिल्म HIT 2 का ट्रेलर रिलीज, श्रद्धा वालकर हत्याकांड की दिला देगा याद

इसके अलावा आफताब का नार्को टेस्ट भी होगा। आफताब दरअसल लगातार अपने बयान भी बदल रहा है। यही कारण है कि पुलिस नार्को टेस्ट के जरिए सच्चाई जानने की कोशिश करेगी। इन सब के बीच एक बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल, श्रद्धा ने 2020 में ही आफताब के खिलाफ पुलिस में शिकायत की थी और कहा था कि आफताब मेरी हत्या कर मेरे टुकड़े-टुकड़े कर देगा। यही कारण है कि अब सवाल उठ रहे हैं कि आफताब के बारे में श्रद्धा इतना कुछ जानती थी, फिर भी उसके साथ क्यों थी? अब हम आपको बताते हैं कि आखिर आफताब को लेकर श्रद्धा ने पुलिस में क्या शिकायत कराई थी। मुंबई के पालघर के तुलिंज थाने में नवंबर 2020 को की गई शिकायत में श्रद्धा वालकर ने आरोप लगाया था कि आफताब उसके साथ मारपीट और गाली-गलौज करता है। 

इसे भी पढ़ें: देश को 'लव जिहाद' के खिलाफ सख्त कानून की जरूरत, गुजरात की जनसभा में असम के CM ने श्रद्धा मर्डर केस का जिक्र करते हुए कही ये बात

वालकर ने शिकायत में कहा था कि आज उसने मेरा गला घोंटकर मारने की कोशिश की। मुझे उसने धमकी दी कि वह मुझे मार डालेगा, मेरे टुकड़े-टुकड़े कर फेंक देगा। वह पिछले छह महीने से मेरे साथ मारपीट कर रहा है। लेकिन मुझमें पुलिस के पास जाने की हिम्मत नहीं थी क्योंकि उसने मुझे जान से मारने की धमकी दी थी। वालकर ने पुलिस से कहा था कि उसके (पूनावाला के) माता-पिता को पता है कि वह मेरे साथ मारपीट करता है और उसने मुझे जान से मारने की कोशिश भी की। हालांकि बाद में श्रद्धा ने अपनी शिकायत वापस ले ली थी और पुलिस ने मामला बंद कर दिया था। पूनावाला (28) पर अपनी लिव-इन-पार्टनर वालकर (27) की हत्या कर उसके शव के 35 टुकड़े करने तथा उन्हें फेंक देने का आरोप है। 

अन्य न्यूज़