सीताराम येचुरी ने अपने बड़े बेटे को किया अलविदा, ट्वीट कर कहा- मैं अकेला नहीं

सीताराम येचुरी ने अपने बड़े बेटे को किया अलविदा, ट्वीट कर कहा- मैं अकेला नहीं

अपने बेटे का अंतिम संस्कार किए जाने के बाद एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, “आज दोपहर में अपने बेटे, आशीष (बिकू) को अलविदा कह दिया। मैं आप सभी को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने हमारे दुख को साझा किया है।

आशीष येचुरी, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी के 34 वर्षीय बेटे की मेदांता में कोविड -19 से मृत्यु हो गई। बता दें कि वह दो सप्ताह से कोरोना संक्रमण से लड़ रहे थे।

 

अपने बेटे की मौत के करीब दो घंटे बाद सीताराम येचुरी ने ट्विटर पर इस खबर को लिखा और कहा कि, “बहुत दुख के साथ मुझे सूचित करना पड़ रहा है कि मैंने आज सुबह अपने बड़े बेटे आशीष येचुरी को कोविड -19 से खो दिया। मैं उन सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने हमें आशा दी और जिन्होंने उसका इलाज किया - डॉक्टर, नर्स, सीमावर्ती स्वास्थ्य कार्यकर्ता, स्वच्छता कार्यकर्ता और असंख्य अन्य जो हमारे साथ खड़े थे। ”

 

अपने बेटे का अंतिम संस्कार किए जाने के बाद एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, “आज दोपहर में अपने बेटे, आशीष (बिकू) को अलविदा कह दिया। मैं आप सभी को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने हमारे दुख को साझा किया है। मैं हर किसी का शुक्रिया अदा करता हूं जिसने हमें इस काले घंटे का सामना करने में सक्षम होने के लिए ताकत दी। मुझे पता है कि मैं अपने दुःख में अकेला नहीं हूँ, इस महामारी के साथ अनगिनत जीवन गई हैं। ” 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।