सोनभद्र घटना: ममता ने साधा योगी सरकार पर निशाना

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 21 2019 10:17AM
सोनभद्र घटना: ममता ने साधा योगी सरकार पर निशाना
Image Source: Google

प्रियंका गांधी को शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में हिरासत में ले लिया गया था और उन्हें सोनभद्र जाने से रोका गया था। सोनभद्र जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू थी।

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने शनिवार को भाजपा की निंदा करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा को कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए सोनभद्र जाने की अनुमति नहीं दी लेकिन भगवा पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने पश्चिम बंगाल के भाटपारा क्षेत्र का दौरा उस समय किया था जब वहां निषेधाज्ञा लागू थी। इस सप्ताह भूमि विवाद को लेकर सोनभद्र में 10 लोगों की हत्या कर दी गई थी। प्रियंका गांधी को शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में हिरासत में ले लिया गया था और उन्हें सोनभद्र जाने से रोका गया था। सोनभद्र जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू थी।



बनर्जी ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘मैं इस घटना (प्रियंका गांधी को हिरासत में लिये जाने) की निंदा करती हूं। जो भी हुआ वह गलत है। दलितों पर अत्याचार होने की घटनाएं हुई हैं और अगर कोई इसके खिलाफ आवाज उठा रहा है, तो उन्हें ऐसा करने की अनुमति दी जानी चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा के तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को सीआरपीसी की धारा 144 लागू होने के बावजूद भाटपारा जाने दिया गया था। लेकिन पार्टी ने प्रशासन की सलाह पर कोई ध्यान नहीं दिया और कानून का उल्लंघन करते हुए 50 वाहनों के साथ वहां गये। बनर्जी ने कहा, ‘‘प्रियंका ने क्या किया कि वह चार लोगों को अपने साथ ले गई थीं और मुझे लगता है कि तीन या चार लोगों को हमेशा अनुमति दी जानी चाहिए। हमने भाटपारा में ऐसा ही किया था। हम लोगों को रोकते नहीं हैं लेकिन वे (भाजपा) ऐसा करते हैं और फिर हमारे बारे में झूठ फैलाते हैं।’’
उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था की स्थिति ‘‘बहुत खराब’’ बताते हुए बनर्जी ने कहा, ‘‘मुझे बताया गया है कि 1,100 से अधिक मुठभेड़ (उत्तर प्रदेश में) हुई हैं और हर रोज पीट पीटकर मार डालने की घटनाएं होती हैं। इन पर गौर किया जाना चाहिए।” बनर्जी ने अब तक सोनभद्र घटना के पीड़ितों के पास नहीं जाने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने सुना कि आदित्यनाथ सोनभद्र (रविवार को) जा रहे हैं। मुझे लगता है कि उन्हें जल्द ही जाना चाहिए था। सोनभद्र में जो हुआ है, वह सही नहीं है।’


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video