जब मंच से अचानक ही शिवराज सिंह चौहान ने सुनाया भजन, बजने लगी तालियां, देखें video

shivraj singh chauhan
twitter
अंकित सिंह । Apr 19, 2022 3:18PM
शिवराज सिंह चौहान को भजन गाता देख सामने बैठे बुजुर्गों ने भी तालियों के साथ भजन गाने की शुरुआत कर दी। शिवराज सिंह चौहान के साथ बैठे अधिकारी एवं मंत्री गण भी मंच पर भजन गाने लगे। अपने आप में यह नजारा अद्भुत हो गया। शिवराज सिंह चौहान के भजन का बोल था- यह जीवन है कागज की नैया।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। वह आम लोगों से बेहद आत्मीय भाव से मिलते-जुलते भी रहते हैं। इन सबके बीच आज शिवराज सिंह चौहान ने बुजुर्गों के लिए तीर्थ दर्शन योजना की शुरुआत की। इस अवसर पर उन्होंने लोगों को संबोधित किया। अपने संबोधन के दौरान ही शिवराज सिंह चौहान में अचानक भजन गाना शुरू कर दिया। शिवराज सिंह चौहान को भजन गाता देख सामने बैठे बुजुर्गों ने भी तालियों के साथ भजन गाने की शुरुआत कर दी। शिवराज सिंह चौहान के साथ बैठे अधिकारी एवं मंत्री गण भी मंच पर भजन गाने लगे। अपने आप में यह नजारा अद्भुत हो गया। शिवराज सिंह चौहान के भजन का बोल था- यह जीवन है कागज की नैया।

देखें video

इस अवसर पर शिवराज ने कहा कि मुझे वह दिन याद आता है जब सीनियर सिटीजन पंचायत में एक बुजुर्ग ने कहा था कि मैं तीर्थ यात्रा करवा दूँ। तब मैंने संकल्प लिया था कि हम बुजुर्गों को सारी सुविधाओं सहित रेल से तीर्थ यात्रा कराएँगे व उनके वापस आने के बाद उन्हें आदर सहित घर भिजवाने की भी व्यवस्था करेंगे। उन्होंने कहा कि आज बहुत शुभ दिन फिर से आया है जब मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना फिर से चालू हो रही है, और अब यह ट्रेनें रुकेंगी नहीं! एक के बाद एक यह ट्रेनें मेरे बुजुर्गों को तीर्थ दर्शन यात्रा कराती रहेंगी। सभी सुखों से बढ़कर है आत्मा का सुख। आत्मा प्रसन्न रहती है दूसरों का भला करके। भगवान के दर्शन में आत्मा को सुख मिलता है।

इसे भी पढ़ें: बुलडोजर के जरिये कानून-व्यवस्था को सुधारना कहां तक सही है ? पंजाब के खजाने पर पड़ा एक और बोझ

शिवराज ने ककहा कि आज मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना यात्रा पुनः प्रारंभ हुई है, कांग्रेस की सरकार ने इसे बंद कर दिया था। यह योजना हमारे बुजुर्गों को आत्मा का आनंद देती है। हमारे बुजुर्गों को आत्मानंद में डूबे हुए देखकर हम लोगों का जीवन भी सफल सार्थक और धन्य हो गया व सरकार चलाना भी सार्थक हो गया। इसी दौरान उन्होंने कहा कि कई प्रभावशाली गुंडों ने बड़ी-बड़ी जमीन हथिया ली थी। हमने बुलडोजर चलाकर इनसे जमीन छुड़ा लिया है, और अब हम वह जमीन गरीबों में बाटेंगे। कल भोपाल में भी बड़ी कार्यवाही कर 350 करोड़ रुपए की जमीन मुक्त कराई गई है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़