• क्या दिल्ली में खुलने चाहिए स्कूल ? सिसोदिया बोले- 30 से 35 हजार लोगों के मिले सुझाव

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि स्कूल खोलने के संबंध में लोगों से जो सुझाव मांगे थे। उन्हें 30-35 हजार सुझाव आए हैं। कुछ लोग स्कूल खोलना चाहते हैं तो वहीं कुछ लोग डरे हुए हैं।

नयी दिल्ली। कोरोना वायरस की दूसरी लहर के कमजोर पड़ने के बाद तमाम राज्यों ने प्रतिबंधों में छूट दे दी तो कुछ राज्यों ने एक कदम आगे बढ़ते हुए स्कूलों को भी फिर से खोल दिए। लेकिन दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने अभी कोई फैसला नहीं किया है। बीते दिनों दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अभिभावको, बच्चों और शिक्षकों से स्कूल के विषय पर सुझाव मांगा था। इसी को लेकर अब बयान जारी किया है। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली वालों के लिए खुशखबरी, 6 अगस्त से पिंक लाइन के एक सेक्शन की शुरुआत 

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि स्कूल खोलने के संबंध में लोगों से जो सुझाव मांगे थे। उन्हें 30-35 हजार सुझाव आए हैं। कुछ लोग स्कूल खोलना चाहते हैं तो वहीं कुछ लोग डरे हुए हैं। हम इसका अध्ययन करा रहे हैं। इसके आधार पर कोई निर्णय होगा तो बताएंगे। स्कूल खुलेंगे कि नहीं समय पर बता दिया जाएगा। सिसोदिया ने समाचार एजेंसी एएनआई के साथ बातचीत में यह जानकारी दी।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री केजरीवाल ने वैक्सीनेशन कार्य में जुटे स्टॉफ को दी बधाई, बोले- दिल्ली के एक करोड़ लोगों को लगी वैक्सीन

आपको बता दें कि मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से ईमेल आईडी जारी करते हुए सुझाव मांगे थे। उन्होंने इसके लिए [email protected] किया था। जिस पर तकरीबन 30 से 35 हजार लोगों के सुझाव आ चुके हैं। दिल्ली में मौजूदा आंकड़ों की तरफ ध्यान दें तो कोरोना वायरस संक्रमण नियंत्रण में है। एक अगस्त कोविड-19 के 85 नए मामले सामने आए जबकि संक्रमण से एक और मरीज की मौत हो गयी। संक्रमण की दर 0.12 प्रतिशत पर पहुंच गयी है।