कोरोना में फिर से खुला सनराइज अस्पताल, आग लगने से हुई थी 11 मरीजों की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2021   17:54
कोरोना में फिर से खुला सनराइज अस्पताल, आग लगने से हुई थी 11 मरीजों की मौत

बंबई उच्च न्यायालय ने सनराइज अस्पताल को कामकाज शुरू करने की अनुमति देने के लिये अंतरिम आदेश देने से मंगलवार को इनकार कर दिया। उपनगरीय क्षेत्र भांडुप के ड्रीम्स मॉल, जहां यह अस्पताल है, में 25 मार्च को आग लग गयी थी और 11 मरीजों की मौत हो गयी थी।

मुम्बई। बंबई उच्च न्यायालय ने सनराइज अस्पताल को कामकाज शुरू करने की अनुमति देने के लिये अंतरिम आदेश देने से मंगलवार को इनकार कर दिया। उपनगरीय क्षेत्र भांडुप के ड्रीम्स मॉल, जहां यह अस्पताल है, में 25 मार्च को आग लग गयी थी और 11 मरीजों की मौत हो गयी थी। मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता और न्यायमूर्ति जी एस कुलकर्णी की खंडपीठ ने कहा, ‘‘ हम अस्पताल को कामकाज शुरू करने का कोई आदेश आजनहीं देंगे।’

इसे भी पढ़ें: घरों में ऑक्सीजन और जीवनरक्षक दवाओं का अनावश्यक भण्डारण न करें: कलराज मिश्र

’ पीठ प्रीविलेज हेल्थकेयर सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड की याचिका पर सुनवाई कर रही थी जिसने उसके अंतरिम पेशा प्रमाणपत्र निरस्त करने के बृहन्मुम्बई महानगरपालिका (बीएमसी) के आदेश को चुनौती दी है और अस्पताल का कामकाज बहाल करने देने का अनुरोध किया।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस नेता का बयान, भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को ढूंढकर लाने वाले को 10000 का इनाम मिलेगा

सनराइज अस्पताल को प्रीविलेज हेल्थकेयर सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ही चलाती है। बीएमसी के वकील अनिल सखारे ने इस अर्जी का विरोध किया और कहा कि 25 मार्च की घटना के बाद अस्पताल के अनापत्ति प्रमाणपत्र एवं नर्सिंग लाईसेंस को रद्द कर दिया गया है। इस मामले की अगली सुनवाई अब जून में होगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।