सूर्यकिरण विमान हादसा: एक पायलट की मौत, दो सुरक्षित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 19, 2019   18:32
सूर्यकिरण विमान हादसा: एक पायलट की मौत, दो सुरक्षित

पुलिस ने बताया कि बाद में दोनों विमान एक आवासीय इलाके के बाहर जंगल-झाड़ वाली जगह पर दुर्घटनाग्रस्त होकर गिर गए लेकिन स्थानीय आबादी में से कोई भी घायल नहीं हुआ।

बेंगलुरु। भारतीय वायु सेना की हवाई करतब टीम सूर्य किरण के दो विमान हवा में टकराने के बाद मंगलवार को यहां दुर्घटनाग्रस्त हो गए। एअरो इंडिया कार्यक्रम के रिहर्सल के दौरान हुए इस हादसे में एक पायलट की मौत हो गई और दो घायल हो गए जिन्हें सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। एशिया के प्रमुख पांच दिवसीय एअर शो - एअरो इंडिया के शुरू होने से एक दिन पहले ही यह हादसा हुआ है। कार्यक्रम के रिहर्सल के दौरान उड़ान भरते वक्त यह दुर्घटना हुई। घटना के वीडियो क्लिप में नजर आ रहा है कि येलाहांका वायुसेना स्टेशन के पास हवा में दोनों विमान एक-दूसरे से टकरा जाने के बाद जमीन पर गिर गए और उनसे आग की लपटें उठने लगी। 

कुछ देर बाद दुर्घटनास्थल से काले धुएं का गुबार उठता दिखा जबकि वीडियो में एक व्यक्ति “हे भगवान, हे भगवान” चिल्लाते हुए दिख रहा है। पुलिस एवं प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक दोनों विमान अभ्यास कर रहे थे और एक विमान जिसमें एक पायलट सवार था वह उड़ान के दौरान पलटकर उड़ रहा था जबकि दूसरा विमान उसके नीचे था जिसमें दो पायलट सवार थे। इसके कुछ ही पल बाद वह अनियंत्रित हो कर एक दूसरे से टकरा गए। पुलिस ने बताया कि बाद में दोनों विमान एक आवासीय इलाके के बाहर जंगल-झाड़ वाली जगह पर दुर्घटनाग्रस्त होकर गिर गए लेकिन स्थानीय आबादी में से कोई भी घायल नहीं हुआ। 

यह भी पढ़ें: जैश-ए-मोहम्मद की भाषा बोल रहे हैं इमरान खान: कांग्रेस

घटनास्थल पर पहुंचे अग्निशमन सेवा के डीजीपी एम एन रेड्डी ने बताया, “विमानों में तीन पायलट सवार थे, एक की मौत हो गई, दो सुरक्षित लेकिन घायल हैं।” यहां रक्षा पीआरओ कार्यालय ने एक बयान में बताया कि यह घटना एअर शो के अभ्यास के दौरान करीब पौने बारह बजे हुई। इसमें बताया गया कि विमान के चालक दल के सदस्यों में शामिल विंग कमांडर वी टी शेल्के और स्क्वाड्रन लीडर टी जे सिंह सुरक्षित बाहर आ गए जबकि विंग कमांडर साहिल गांधी की मौत हो गई। बयान में बताया गया कि दोनों पायलट को विमान से बेंगलुरु के वायुसेना कमान अस्पताल ले जाया गया। इसमें बताया गया कि मामले की जांच कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी करेगी। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।