सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, विपक्षी नेताओं को जानकारी देंगी सुषमा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 26, 2019   14:58
सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, विपक्षी नेताओं को जानकारी देंगी सुषमा

उन्होंने कहा, ‘‘विश्वसनीय सूचना प्राप्त हुई थी कि जैशे मोहम्मद देश के विभिन्न हिस्सों में दूसरा आत्मघाती हमला करने के प्रयास में है और इसके लिए फिदायीन जेहादियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है।

नयी दिल्ली। सरकार ने मंगलवार को एक सर्वदलीय बैठक बुलाई है जिसमें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पाकिस्तान में जैशे मोहम्मद के आतंकवादी शिविरों के खिलाफ तड़के भारतीय वायुसेना द्वारा किये गए हवाई हमले के बारे में जानकारी देंगी। यह जानकारी सूत्रों ने दी है। सूत्रों ने कहा कि बैठक जवाहर भवन में शाम पांच बजे बुलाई गई है जहां विदेश मंत्रालय स्थित है। इसमें विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं के हिस्सा लेने की उम्मीद है।

अधिकारियों ने बताया कि पुलवामा हमले के बाद भारत ने मंगलवार तड़के पाकिस्तान में जैशे मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर को तीव्र और सटीक हवाई हमला करके नष्ट कर दिया। इसमें ‘‘बड़ी संख्या में’’ आतंकवादी, प्रशिक्षक और बड़े कमांडर मारे गए। भारत के विदेश सचिव विजय गोखले ने इस अभियान के बारे में जानकारी देने के लिए आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि विश्वसनीय खुफिया जानकारी मिली थी कि 12 दिन पहले पुलवामा हमले को अंजाम देने के बाद जैशे मोहम्मद भारत में और आत्मघाती आतंकी हमले की योजना बना रहा है। 

इसे भी पढ़ें: वायुसेना की कार्यवाई के बाद सिद्धू ने बदला राग, कहा- लोहा लोहे को काटता है

उन्होंने कहा, ‘‘विश्वसनीय सूचना प्राप्त हुई थी कि जैशे मोहम्मद देश के विभिन्न हिस्सों में दूसरा आत्मघाती हमला करने के प्रयास में है और इसके लिए फिदायीन जेहादियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। आसन्न खतरे के मद्देनजर, यह हमला जरूरी हो गया था।’’ गोखले ने कहा, ‘‘भारत ने गुप्तचर सूचना की मदद से (मंगलवार) तड़के एक अभियान में बालाकोट में जैशे मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षिण शिविर पर हमला किया।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।