चीन से आयात की गई 24 हजार त्वरित जांच किट वापस करेगी तमिलनाडु सरकार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 28, 2020   09:43
चीन से आयात की गई 24 हजार त्वरित जांच किट वापस करेगी तमिलनाडु सरकार

तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री सी विजय भास्कर ने कहा, ‘‘ आईसीएमआर के ऑर्डर के अनुरूप तमिलनाडु को मिले सभी 24 हजार किट को लौटाया जा रहा है।’’ उन्होंने कहा कि इस पर राज्य सरकार ने कोई खर्च नहीं किया था।

चेन्नई। तमिलनाडु सरकार ने सोमवार को कोविड-19 की जांच के लिए चीन से आयात की गई 24 हजार त्वरित जांच किट वापस करने की घोषणा की। राज्य सरकार ने यह घोषणा आईसीएमआर द्वारा राज्यों से दो कंपनियों के त्वरित एंडीबॉडी किट से जांच रोकने और ये किट वापस करने की जानकारी देने के कुछ घंटों बाद की। उल्लेखनीय है कि इन किट की कीमत को लेकर तमिलनाडु सरकार और विपक्षी पार्टी द्रमुक में खींचतान चल रही है। द्रमुक ने किट खरीद में पारदर्शिता की मांग की है जबकि सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक का कहना है कि केंद्र द्वारा तय कीमतों पर किट की खरीददारी की गई। 

इसे भी पढ़ें: केरल में कोविड-19 के 13 नये मामले सामने आये, संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 481 हुयी

इससे पहले भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने कहा कि उसने ग्वांगझू वोडफो बायोटेक और झुहई लिवसन डायग्नोस्टिक के किट की जांच की जिसमें पूर्व में किए गए दावे के विपरीत नतीजों में भारी अंतर आया। तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री सी विजय भास्कर ने कहा, ‘‘ आईसीएमआर के ऑर्डर के अनुरूप तमिलनाडु को मिले सभी 24 हजार किट को लौटाया जा रहा है।’’ उन्होंने कहा कि इस पर राज्य सरकार ने कोई खर्च नहीं किया था। भास्कर ने साथ ही कहा कि आईसीएमआर के निर्देशों के अनुसार बाकी सभी ऑर्डर भी रद्द कर दिए गए हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।