Uttarakhand Election:चुनाव के बदल गए चेहरे! टिहरी सीट से उपाध्याय बनाम नेगी, कौन मारेगा बाजी?

BJP
निधि अविनाश । Jan 29, 2022 10:58PM
अदला-बदली की इस राजनीति से टिहरी की सीट काफी चर्चा का विषय बन गयी है। सबसे पहले कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्यय ने गुरूवार को भाजपा का दामना थाम लिया जिससे यह तो तय हो गया कि उपाध्यय जी भाजपा का टिकट लेने के पूरे मूड में है।

कहते है न राजनीति में सबकुछ संभव है, ऐसा ही कुछ विधानसभा चुनाव से पहले हो गया है। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव होने वाले है लेकिन उससे पहले ही दलबदल की राजनीति भी तेजी से दौड़ रही है। बता दें कि, टिहरी सीट पर कांग्रेस का जो चेहरा था वह अब भाजपा की तरफ से चुनाव लड़ता नजर आएगा वहीं भाजपा का चेहरा अब कांग्रेस की तरफ से लड़ता नजर आने वाला है।अदला-बदली की इस राजनीति से टिहरी की सीट काफी चर्चा का विषय बन गयी है। सबसे पहले कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्यय ने गुरूवार को भाजपा का दामना थाम लिया जिससे यह तो तय हो गया कि उपाध्यय जी भाजपा का टिकट लेने के पूरे मूड में है, वहीं दूसरी तरफ नाराज चल रहे टिहरी से मौजूदा विधायक धनसिंह नेगी ने भाजपा से कट्टी करके सीधे कांग्रेस का हाथ पकड़ लिया जिससे यह भी पक्का हो गया कि उन्हें कांग्रेस का टिकट मिलेगा।

इसे भी पढ़ें: विधानसभा चुनाव 2022: भाजपा ने उत्तराखंड के लिए 30 स्टार प्रचारकों की सूची जारी की

जानकारी के लिए बता दें कि, किशोर उपाध्याय को कांग्रेस की तरफ से निष्कासित कर दिया गया और आरोप लगाए गए कि वह पार्टी  विरोधी गतिविधियों में शामिल है। इन अटकलों के बीच गुरूवार को उपाध्याय ने भाजपा का दामन थाम लिया। किशोर भाजपा के उत्तराखंड चुनाव प्रभारी प्रह्लाद जोशी और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए। वहीं, तिलमिलाए कांग्रेस पार्टी ने तुरंत टिहरी सीट से नेगी को उम्मीदवार भी घोषित कर दिया। कांग्रेस आरोप लगाते हुए कह रही है कि, भाजपा ने धनसिंह नेगी के साथ गलत किया है। उत्तराखंड में कांग्रेस पार्टी की प्रवक्ता गरिमा दसौनी ने कहा, ‘कांग्रेस नेगी का स्वागत करती है। उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत के बूते 2017 में टिहरी सीट पर जीत हासिल की थी। बीजेपी ने उन्हें टिकट न देकर उनके साथ घोर अन्याय किया क्योंकि वह टिहरी के लोगों के लिए समर्पित रहे हैं।’ 

इसे भी पढ़ें: Uttarakhand Election: 5 लाख परिवारों को सालाना 40 हजार देने से लेकर गैस सिलेंडरों के दाम पर कंट्रोल तक, कांग्रेस ने किए बड़े वादे

भाजपा मे टिहरी सीट से उम्मीदवार का नाम घोषित नहीं किया था लेकिन किशोर उपाध्याय के पार्टी में शामिल होने के बाद बीजेपी ने टिहरी से किशोर को टिकट पकड़ा दिया है।यह देखना अब काफी दिलचस्प होगा कि टिहरी सीट से कौन सा उम्मीदवार जीतेगा। कांग्रेस या भाजपा?  

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़