निवाड़ी में मौनी बाबा आश्रम पर इस बार एकादशी पर नहीं लगेगा मेला

निवाड़ी में मौनी बाबा आश्रम पर इस बार एकादशी पर नहीं लगेगा मेला

कलेक्टर आशीष भार्गव ने बताया कि इस मेले में निवाड़ी सहित आसपास के जिलों से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु जाते हैं। उन्होंने टीकमगढ़ एवं झांसी जिला समीपवर्ती होने से जिले में सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है।

टीकमगढ़। निवाड़ी जिले में स्थित मौनी बाबा आश्रम अड़जार मंदिर पर प्रतिवर्ष दीपावली की एकादशी पर आयोजित होने वाला भव्य मेला इस बार नहीं लगेगा।निवाड़ी जिला कलेक्टर आशीष भार्गव ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार वर्तमान में कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण को देखते हुए मौनी बाबा आश्रम अड़जार मंदिर पर एकादशी पर आयोजित होने वाला मेला प्रतिबंधित किया गया है। अतः मौनी बाबा आश्रम अड़जार मंदिर में दीपावली की एकादशी पर मेला आयोजित नहीं किया जायेगा।

इसे भी पढ़ें: गुना जिले के विद्यार्थीयों ने की छात्रावास खोलने की माँग, जिला शिक्षा अधिकारी को दिया ज्ञापन

ज्ञातव्य है कि निवाड़ी जिले में स्थित मौनी बाबा आश्रम अड़जार मंदिर पर प्रतिवर्ष दीपावली की एकादशी पर मेले का आयोजन किया जाता है। इस मेले के दौरान हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं का आवागमन होता है। वर्तमान में कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुये मप्र शासन गृह मंत्रालय के आदेशानुसार प्रदेश में धार्मिक स्थलों पर मेलों के आयोजन को प्रबंधित किया गया है। साथ ही उच्च न्यायालय के निर्देशों के पालन में जनसमुदाय के स्वास्थ्य की रक्षा को दृष्टिगत रखते हुये आयोजन किया जाना जनहित में नहीं है।

इसे भी पढ़ें: मेधा पाटकर की अपील किसान आंदोलन को बनाए सफल, 26 नवम्बर से दिल्ली में डालेंगी डेरा

कलेक्टर आशीष भार्गव ने बताया कि इस मेले में निवाड़ी सहित आसपास के जिलों से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु जाते हैं। उन्होंने टीकमगढ़ एवं झांसी जिला समीपवर्ती होने से जिले में सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है। नागरिकों को वर्तमान परिस्थितियों में पूर्व परपंरा अनुसार इस वर्ष मौनी बाबा आश्रम अड़जार मंदिर निवाड़ी में मेला आयोजित नहीं होने की समय एवं पूर्व सूचना दी जाना आवश्यक है, ताकि मेला स्थल पर श्रद्धालु एकत्रित नहीं हों।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।