The Kashmir Files: सिसोदिया का भाजपा पर निशाना, कहा- उन्हें सिर्फ फिल्म की चिंता है, कश्मीरी पंडितों की नहीं

The Kashmir Files: सिसोदिया का भाजपा पर निशाना, कहा- उन्हें सिर्फ फिल्म की चिंता है, कश्मीरी पंडितों की नहीं

मनीष सिसोदिया ने आगे कहा कि दिल्ली में कश्मीरी पंडितों को प्रति माह 3,000 रुपए प्रदान किए गए। देश भर के कश्मीरी पंडित कश्मीर वापस जाने का मौका चाहते हैं। भाजपा 8 साल से सत्ता में है। उन्होंने कश्मीरी पंडितों के लिए क्या किया?

विवेक अग्निहोत्री द्वारा निर्देशित द कश्मीर फाइल्स को लेकर राजनीति लगातार जारी है। भाजपा  नेताओं की ओर से इसे जबरदस्त तरीके से समर्थन दिया जा रहा है जबकि विपक्ष इसे सिर्फ सरकार का प्रोपेगेंडा बता रहा है। दिल्ली में भी द कश्मीर फाइल पर राजनीति जारी है। इन सब के बीच आज दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बड़ा बयान दिया है। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक मनीष सिसोदिया ने कहा कि BJP को कश्मीर फाइल की चिंता है, कश्मीरी पंडितों की चिंता नहीं है। CM केजरीवाल ने कश्मीरी पंडितों के लिए बहुत कुछ किया, दस्तावेज़ के अभाव में भी 223 शिक्षकों को स्थायी दर्जा, पेंशन प्रणाली को सुव्यवस्थित किया।

मनीष सिसोदिया ने आगे कहा कि दिल्ली में कश्मीरी पंडितों को प्रति माह 3,000 रुपए प्रदान किए गए। देश भर के कश्मीरी पंडित कश्मीर वापस जाने का मौका चाहते हैं। भाजपा 8 साल से सत्ता में है। उन्होंने कश्मीरी पंडितों के लिए क्या किया? इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा पर कश्मीरी पंडितों के पलायन पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए सवाल किया था कि पार्टी ने सत्ता में आने के बाद से उनमें से कितने लोगों को घाटी में फिर से बसाया है। ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और आम आदमी पार्टी (आप) के बीच जुबानी जंग शुरू होने के बीच केजरीवाल ने एक बार फिर सुझाव दिया कि इस फिल्म को यूट्यूब पर अपलोड किया जाना चाहिए और इससे अब तक हुई कमाई को कश्मीरी पंडितों के कल्याण पर खर्च किया जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: बाल गृहों में बच्चों की देखभाल न होने वाले केजरीवाल की टिप्पणी पर एनसीपीसीआर अध्यक्ष ने लगाया आरोप, कहा- झूठ बोल रहे सीएम

फिल्म पर अपनी टिप्पणी और भाजपा की आलोचना पर एक सवाल के जवाब में केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा था कि पिछले 25 वर्षों में कश्मीरी पंडितों के पलायन के बाद से, पिछले आठ वर्ष समेत 13 वर्ष में केंद्र में भाजपा की सरकारें रही हैं। क्या इस अवधि में किसी कश्मीरी पंडित परिवार का पुनर्वास हुआ है? एक भी परिवार कश्मीर नहीं लौटा है। केजरीवाल ने कहा कि कश्मीर पंडित अपने घरों को लौट सकें, इसके लिए ठोस कदम उठाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ ने लगभग 200 करोड़ रुपये कमाए हैं और आरोप लगाया कि भाजपा फिल्म के माध्यम से ‘‘किसी की त्रासदी पर पैसा कमा रही है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।