जिस वकील ने आजम खान को भिजवाया जेल, उसी को भाजपा ने रामपुर से बनाया उम्मीदवार

जिस वकील ने आजम खान को भिजवाया जेल, उसी को भाजपा ने रामपुर से बनाया उम्मीदवार

आकाश सक्सेना ही वो शख्स हैं जिन्होंने आजम खान की नाक में दम कर रखा है। दरअसल, आकाश सक्सेना पेशे से वकील हैं। इतना ही नहीं, आकाश सक्सेना ही वह वकील है जिन्होंने आजम खान और उनके परिवार के खिलाफ कई मुकदमे किए हैं।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा की पहली सूची आ गई है। भाजपा ने अपनी पहली सूची में 107 नामों का ऐलान किए है। भाजपा के केंद्रीय कार्यालय में धर्मेंद्र प्रधान और पार्टी महासचिव अरुण सिंह ने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की। इसी कड़ी में इस बात की भी खबर मिली कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर शहर से चुनावी मैदान में उतरेंगे। जिन 107 सीटों के लिए भाजपा ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा की है उनमें 20 वर्तमान विधायकों की छुट्टी कर दी गई है। पार्टी ने सिर्फ 63 सीटिंग विधायक को ही टिकट दिए हैं। भाजपा ने रामपुर से आकाश सक्सेना को टिकट दिया है। आपको बता दें कि रामपुर आजम खान के दबदबे वाला क्षेत्र है।

इसे भी पढ़ें: UP Election 2022: OBC नेताओं के लगातार पार्टी छोड़ने के बाद बीजेपी ने बनाया ये काउंटर प्लान

आकाश सक्सेना ही वो शख्स हैं जिन्होंने आजम खान की नाक में दम कर रखा है। दरअसल, आकाश सक्सेना पेशे से वकील हैं। इतना ही नहीं ,आकाश सक्सेना ही वह वकील है जिन्होंने आजम खान और उनके परिवार के खिलाफ कई मुकदमे किए हैं। आकाश सक्सेना ने आजम खान के दोहरे पासपोर्ट, आधार कार्ड और जन्म प्रमाण पत्र मामले को उठाया था और इसी मामले में आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्लाह आजम जेल में बंद है। आजम खान की पत्नी तंजीम फातिमा भी जेल में रह चुकी हैं। इसके साथ ही आजम खान द्वारा स्थापित जौहर यूनिवर्सिटी पर भी सरकार का कंट्रोल हो चुका है।

इसे भी पढ़ें: सभी वर्ग को साधने की कोशिश में भाजपा, पहली सूची में 44 ओबीसी और 19 एससी उम्मीदवार

आकाश सक्सेना लगातार आजम खान के काले कारनामों की पोल खोलते रहे हैं। वह आजम खान के खिलाफ गवाही देने और सुबूत पेश करने में आगे रहे। कुल मिलाकर कहें तो आकाश सक्सेना ही आजम और उनके परिवार के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ी है। उत्तर प्रदेश में भाजपा का अपना दल (एस) और निषाद पार्टी से गठबंधन हुआ है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी सहित पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति के अन्य सदस्यों ने बृहस्पतिवार को हुई एक बैठक में अब तक घोषित नामों पर मुहर लगाई थी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...