बांदीपोरा के युवक ने 500 मीटर कागज के रोल पर हाथों से कुरान लिखी

 Quran
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Comments
जमील ने कहा, ‘‘ अक्षरांकन (कैलीग्राफी) के लिए विशेष कला पेपर की व्यवस्था करने में मुझे दो महीने लगे। मुझे यह दिल्ली की एक फैक्टरी से मिला क्योंकि ये खुले बाजार में उपलब्ध नहीं था।फिर मैंने इसके लिए एक विशेष कैलीग्राफी स्याही का भी प्रबंध किया।’’

श्रीनगर, 27 जुलाई, जम्मू-कश्मीर में बांदीपोरा के एक युवक ने सराहनीय उपलब्धि हासिल करते हुए 500 मीटर लंबे कागज के रोल पर हाथों से पवित्र कुरान लिखी है। फ्रंटीयर गुरेज के तुलैल इलाके के रहने वाले मुस्तफा-इब्न-जमील ने पिछले साल इस परियोजना पर काम करना शुरू किया था।

जमील ने कहा, ‘‘ अक्षरांकन (कैलीग्राफी) के लिए विशेष कला पेपर की व्यवस्था करने में मुझे दो महीने लगे। मुझे यह दिल्ली की एक फैक्टरी से मिला क्योंकि ये खुले बाजार में उपलब्ध नहीं था।फिर मैंने इसके लिए एक विशेष कैलीग्राफी स्याही का भी प्रबंध किया।’’ उन्होंने कहा कि यह कार्य इस साल जून में संपन्न हो गया था लेकिन अक्षरांकन के चलते इसमें तीन और महीने का समय लगा। जमील ने कहा, ‘‘ (पेपर के) किनारों का डिजाइन करने में करीब एक महीने का समय लगा।

मैंने इसे करीब 13 लाख बिंदियों के साथ डिजाइन किया। इसके बाद कागज के पूरे रोल पर लेमिनेशन किया गया।’’ उन्होंने बताया कि इस पूरी परियोजना को दिल्ली में पूरा किया गया, जिसमें करीब ढाई लाख रुपये खर्च हुए। जमील ने कहा कि उनकी दिली इच्छा थी कि वह कुरान लिखें और इसके लिए अपनी लिखाई में सुधार लाने के वास्ते उन्होंने अक्षरांकन कला सीखी। उन्होंने कहा कि इस कार्य में उनके परिवार ने भी उनका भरपूर सहयोग किया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़