• किसानों ने भाजपा नेता कैलाश मेघवाल के फाडे कपड़े, पुलिसवालों ने सुरक्षित निकाला

प्राप्त जानकारी के मुताबिक भाजपा नेता कैलाश मेघवाल के साथ बदसलूकी का मामला उस वक्त हुआ जब वह महंगाई और सिंचाई के मुद्दे पर पार्टी के विरोध प्रदर्शन में शामिल होने पहुंचे थे।

जयपुर। केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ आठ महीने से किसानों का आंदोलन जारी है। इसी बीच राजस्थान के श्रीगंगानगर से बड़ी खबर सामने आ रही है। बता दें कि राजस्थान के श्रीगंगानगर में भी किसान आंदोलन कर रहे हैं। इसी बीच प्रदर्शनकारी किसानों ने अपना आपा खो दिया और भाजपा नेता कैलाश मेघवाल के कपड़े फाड़ डाले। 

इसे भी पढ़ें: 'लोकतंत्र बचाओ देश बचाओ' नारे के साथ बोलीं ममता बनर्जी, हर दो महीने में आती रहूंगी 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक भाजपा नेता कैलाश मेघवाल के साथ बदसलूकी का मामला उस वक्त हुआ जब वह महंगाई और सिंचाई के मुद्दे पर पार्टी के विरोध प्रदर्शन में शामिल होने पहुंचे थे। लेकिन कृषि कानूनों को लेकर आक्रोशित किसानों ने अपना गुस्सा भाजपा नेता पर उतार दिया।

कहा जा रहा है कि किसानों ने सबसे पहले कैलाश मेघवाल और भाजपा के खिलाफ नारेबाजी की। इसी बीच धक्का-मुक्की के दौरान कैलाश मेघवाल के कपड़े फाड़े गए। हालांकि कुछ किसानों और पुलिसवालों ने बीच बचाव कर कैलाश मेघवाल को वहां से सुरक्षित निकाल लिया। 

इसे भी पढ़ें: राहुल गांधी ने ट्वीट कर साधा केंद्र पर निशाना, कहा- संसद का और समय व्यर्थ मत करो, महंगाई, किसान और पेगासस की बात करने दो 

गौरतलब है कि किसान संगठन केंद्रीय कृषि कानूनों की वापसी की मांग के साथ पिछले आठ महीने से आंदोलन कर रहे हैं। किसानों की मांग है कि कानूनों को वापस लिया जाए और न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) कानून बनाया जाए।