जूते सहित कई उत्पादों पर तिरंगा प्रिंट, अमेजन के मालिक पर हुआ मामला दर्ज

Filed complaint against amazon
सुयश भट्ट । Jan 26, 2022 11:59AM
अमेजन पर तिरंगे के प्रिंट के साथ जूते सहित कई उत्पाद बेचने के आरोप में भोपाल की अपराध शाखा में अज्ञात विक्रेता के खिलाफ राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम की धारा दो और भारतीय दंड संहिता की धारा 505 (2) में प्रकरण दर्ज किया गया है।

भोपाल। राजधानी भोपाल पुलिस ने अमेजन पर जूते सहित कई उत्पादों को राष्ट्रीय ध्वज के प्रिंट के साथ बेचने के आरोप में अज्ञात विक्रेता के खिलाफ मंगलवार शाम को प्राथमिकी दर्ज की है।

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा द्वारा भारतीय राष्ट्रीय ध्वज की छवि के साथ जूते सहित कई उत्पाद बेचने के आरोप में अमेजन के मालिक और अधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का पुलिस को निर्देश देने के चंद घंटे बाद यह कार्रवाही हुई है।

इसे भी पढ़ें:तमिलनाडु के गणतंत्र दिवस समारोह में केन्द्रीय समिति द्वारा अस्वीकृत झांकी दिखाई गई 

दरअसल भोपाल के पुलिस आयुक्त मकरंद देउस्कर ने जानकारी देते हुए कहा कि अमेजन पर तिरंगे के प्रिंट के साथ जूते सहित कई उत्पाद बेचने के आरोप में भोपाल की अपराध शाखा में अज्ञात विक्रेता के खिलाफ राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम की धारा दो और भारतीय दंड संहिता की धारा 505 (2) में प्रकरण दर्ज किया गया है।

इससे पहले गृह मंत्री ने कहा कि मेरे संज्ञान में आया है कि हमारे राष्ट्रीय ध्वज का उपयोग ऑनलाइन ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन द्वारा बेचे जा रहे उत्पादों पर किया जाता है। यह असहनीय है कि राष्ट्रीय ध्वज जूतों पर भी इस्तेमाल किया गया। उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया यह राष्ट्रीय ध्वज संहिता का उल्लंघन है। मैंने पुलिस महानिदेशक को अमेजन के अधिकारियों और मालिक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है।

इसे भी पढ़ें:भारत के 73वें गणतंत्र दिवस पर गूगल ने अपने डूडल में राजपथ परेड को किया प्रदर्शित 

वहीं जानकारी मिली है कि अमेजन को सोशल मीडिया के उपयोगकर्ताओं के एक वर्ग का क्रोध का सामना करना पड़ा है। क्योंकि इसके कुछ उत्पादों में भारतीय ध्वज की छवियां थी। कुछ उपयोगकर्ताओं ने कहा कि इस तरह तिरंगे का उपयोग करना उसका अपमान है और यह देश की ध्वज संहिता का उल्लंघन है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़