उद्धव ने संभाली सामना की कमान, शिंदे गुट पर किया करारा वार, जल्दबाजी में हनीमून मनाया, लेकिन शादी करना भूल गए

Shinde
creative common
अभिनय आकाश । Aug 06, 2022 12:26PM
शिवसेना ने कहा कि शिंदे समूह एक ऐसी स्थिति में पहुंच गया है जहां उन्होंने जल्दबाजी में हनीमून मनाया, लेकिन शादी करना भूल गए। सामना में कहा गया कि पिछले दो महीने से राज्य की राजनीतिक सेहत बिगड़ी हुई है।

महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे की बगावत के बाद से शुरू हुए सियासी संग्राम में लगातार वार-पलटवार जारी है। शिंदे गुट और उद्धव खेमे की तरफ से बयानबाजी हो रही है। अब शिवसेना ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और बागियों पर निशाना साधा है। शिवसेना के मुखपत्र सामना में कहा कि पिछले दो महीने से राज्य का स्वास्थ्य खराब करने वालों का स्वास्थ्य खराब करने वालों का स्वास्थ्य खराब हो गया। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे वर्तमान में लगातार दौरे, अपर्याप्त नींद के कारण थके हुए हैं और बीमार पड़ गए हैं। जिसके बाद से शिवसेना हमलावर है। 

इसे भी पढ़ें: बुरे वक्त में प्रियंका, अरविंद समेत इन नेताओं ने उद्धव का कंधे से कंधा मिलाकर दिया साथ

शिवसेना ने कहा कि शिंदे समूह एक ऐसी स्थिति में पहुंच गया है जहां उन्होंने जल्दबाजी में हनीमून मनाया, लेकिन शादी करना भूल गए। सामना में कहा गया कि पिछले दो महीने से राज्य की राजनीतिक सेहत बिगड़ी हुई है, लेकिन मुख्यमंत्री शिंदे, जिनकी बदहाली या विश्वासघात ने राज्य की तबीयत खराब कर दी है। शिंदे की सेहत पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके बीमार पड़ने की खबर अलीबाबा और चालिस चोर के लिए चिंताजनक है। मनुष्य और उसका शरीर एक मशीन है। कभी-कभार ब्रेकडाउन हो जाएगा, लेकिन शिंदे बिना सोए कम से कम 20-22 घंटे काम करते हैं। उनका काम के प्रति उत्साह बहुत अच्छा है। उनके आसपास कोई वायरस नहीं घूम रहा है, फिर भी चालीस लोगों के लिए यह चिंता का विषय है कि मुख्यमंत्री बीमार पड़ जाएं। 

इसे भी पढ़ें: शिंदे मंत्रिमंडल का शुक्रवार को हो सकता है विस्तार, इतने विधायक ले सकते हैं मंत्रिपद की शपथ, चंद्रकांत पाटिल का नाम भी शामिल

सामना में आगे लिखा गया कि उद्धव ठाकरे का राज्यव्यापी दौरा अभी शुरू होगा, राज्य का माहौल बदलने की प्रक्रिया शुरू होगी. उड़ती हुई धूल को देखने के बाद आज की बीमारी और भी मजबूत हो जाएगी और कितना भी जादू-टोना कर लिया जाए, इसे कोई नहीं रोक पाएगा। दरअसल शिवसेना नेता संजय राउत के जेल जाने के बाद उद्धव ठाकरे ने खुद ही सामना की कमान अपने हाथ में ली है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़