ओपी सिंह हुए रिटायर, हितेश अवस्थी बने यूपी के कार्यवाहक DGP

ओपी सिंह हुए रिटायर, हितेश अवस्थी बने यूपी के कार्यवाहक DGP

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह शुक्रवार को सेवानिवृत हो गए हैं। अगला डीजीपी कौन होगा ? इस कयास के बीच डीजी विजिलेंस हितेश चन्द्र अवस्थी को नया कार्यवाहक डीजीपी नियुक्त कर दिया गया है। लखनऊ पुलिस लाइन में डीजीपी ओपी सिंह की विदाई परेड का आयोजन किया गया था।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह शुक्रवार को सेवानिवृत हो गए हैं। अगला डीजीपी कौन होगा ? इस कयास के बीच डीजी विजिलेंस हितेश चन्द्र अवस्थी को नया कार्यवाहक डीजीपी नियुक्त कर दिया गया है। लखनऊ पुलिस लाइन में डीजीपी ओपी सिंह की विदाई परेड का आयोजन किया गया था। वर्तमान में जो अधिकारी डीजीपी बनने की दौड़ में आगे बताए जा रहे हैं उसमें 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी डीजी विजिलेंस हितेश अवस्थी जो अब कार्यवाहक डीजीपी बन गए हैं सबसे आगे थे। वरिष्ठता के आधार पर डीजीपी के चयन होने की स्थित में हितेश चंद्र अवस्थी ही दावेदार थे। रिटायर होने के दिन डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि वर्दी धारण कर जनसेवा करने का अवसर मिलना वरदान से कम नहीं था।

इसे भी पढ़ें: प्रदर्शन की आग लखनऊ पहुंची, नदवा कॉलेज में छात्रों का हंगामा, पुलिस पर पथराव

डीजीपी की दौड़ में शामिल अन्य पुलिस अधिकारियों की बात की जाए तो 1986 बैच के आईपीएस अधिकारी डीजी सुजान वीर सिंह, 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी डीजी ईओडब्ल्यू डॉ. आरपी सिंह, इसी बैच के डीजी उप्र राज्य मानवाधिकार आयोग जीएल मीणा, डीजी फायर सर्विस विश्वजीत महापात्रा, 1988 बैच के डीजी पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड आरके विश्वकर्मा, डीजी जेल आनन्द कुमार व केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से वापस आ रहे डीजी डीएस चौहान के नाम भी शामिल हैं। हालांकि, अब तक संघ लोकसेवा आयोग को भेजे गए नामों पर कोई निर्णय न होने की सूचना है। इसके चलते ही कार्यवाहक डीजीपी बनाए जाने व ओपी सिंह को सेवा विस्तार के कयास भी लगाए जा रहे थे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।