भाजपा को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पटकनी देने को मोर्चाबंदी को तैयार हुए जयंत और अखिलेश

अखिलेश यादव और रालोद के मुखिया  जयंत चौधरी
राजीव शर्मा । Jan 28, 2022 1:31AM
यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनजर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) और रालोद अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह शुक्रवार को मेरठ पहुंचेंगे. माना जा रहा है कि दोनों नेता यहां गठबंधन का वोट बैंक बढ़ाने की कोशिश करेंगे

मेरठ,यूपी चुनाव की तैयारियों में जुटे नेता आनन-फानन अपने कार्यक्रम कर रहे हैं। जहां सीएम योगी आदित्यनाथ का शुक्रवार को मेरठ,हस्तिनापुर में दौरा तय किया गया तो वहीं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और रालोद के मुखिया  जयंत चौधरी शुक्रवार को मेरठ में मीडिया से रूबरू होंगे। उनके साथ में दोनों पार्टियों के जिलाध्यक्ष और गठबंधंन के उम्मीदवार भी होंगे।

समाजवादी पार्टी के मेरठ जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने गुरुवार शाम को अपने लेटर पैड पर सूचना जारी की है। उन्होंने बताया  कि अखिलेश यादव और चौधरी जयंत  शुक्रवार को दोपहर 3.30 बजे होटल गॉडविन में संयुक्त रूप से प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। वहीं सपा कार्यकर्ता और नेता तैयारियों में जुट गए हैं।

पिछले कुछ दिनों से भारतीय जनता पार्टी के प्रमुख नेता वेस्टर्न यूपी में चुनावी दौरे कर रहे हैं। कैराना में देश के गृहमंत्री व भाजपा के थिंक टैंक माने जाने वाले अमित शाह ने घरों में जाकर बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश की थी। वहीं योगी आदित्यनाथ भी अलग-अलग जिलों में चुनावी दौरा कर रहे हैं। गुरुवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने मेरठ में पहुंचकर गली-गली घूमकर भाजपा के पक्ष में प्रचार कर वोट मांगे।  पश्चिम उत्तर प्रदेश में प्रचार पर निकले भाजपा के नेता विपक्षी नेता सपा रालोद गठबंधन पर लगातार निशाना साध रहे हैं।

ऐसे में अब उम्मीद की जा रही है कि अखिलेश यादव और चौधरी जयंत सिंह पश्चिम उत्तर प्रदेश की भूमि में उतर कर उनको करारा जवाब दे सकते हैं। यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल साथ-साथ चुनाव लड़ रहे हैं। राष्ट्रीय लोकदल को समाजवादी पार्टी ने गठबंधन के तहत 40 सीटें दी हैं। सभी की सभी सीटें पहले और दूसरे चरण की विधानसभा सीटों की हैं, जो पश्चिमी यूपी की हैं।

यूपी के चुनाव की शुरुआत पश्चिमी यूपी से होनी है। पहले चरण में 10 फरवरी को 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान होना है, तो दूसरे चरण में 14 फरवरी को 9 जिलों की 55 सीटों पर वोटिंग होगी। इस तरह से पहले सूबे में दोनों चरणों में वेस्ट यूपी के ज्यादातर इलाकों में चुनाव होंगे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़