टल सकता है वायु तूफान का खतरा, सिर्फ तटीय इलाकों पर पड़ेगा असर

By अंकित सिंह | Publish Date: Jun 13 2019 10:00AM
टल सकता है वायु तूफान का खतरा, सिर्फ तटीय इलाकों पर पड़ेगा असर
Image Source: Google

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि चक्रवात वायु से उत्पन्न खतरे को देखते हुये निचले इलाकों से करीब 3.10 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर भेज दिया गया है और राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ की 52 टीमों को तैनात कर दिया गया है

भारत मौसम विज्ञान विभाग अहमदाबाद में वैज्ञानिक मनोरमा मोहंती ने कहा है कि वायु तूफान गुजरात से नहीं टकराएगा। यह वेरावल, पोरबंदर और द्वारका से पास से होकर निकल जाएगा। इसका असर सिर्फ तटीय क्षेत्रों पर दिखेगा और हवा की गति तेज होगी और साथ ही भारी बारिश की भी संभावना है। महाराष्ट्र में भी वायु तूफान को देखते हुए अरब सागर किनारे कोंकण क्षेत्र में जनता के लिए समुद्र तट बंद कर दिए गए है। चक्रवात की अधिकता 900 किमी से अधिक रहेगी।



इस बीच पोरबंदर में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की छह टीमें अलर्ट पर हैं। इससे पहले गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि चक्रवात वायु से उत्पन्न खतरे को देखते हुये निचले इलाकों से करीब 3.10 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर भेज दिया गया है और राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ की 52 टीमों को तैनात कर दिया गया है। शाह ने बताया कि तटरक्षक बल, नौसेना, सेना और वायु सेना की इकाइयों को तैयार रखा गया है और विमानों एवं हेलीकॉप्टरों की मदद से हवाई निगरानी की जा रही है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story