मुख्यमंत्री चन्नी ने केजरीवाल को लेकर दिया विवादित बयान, बोले- हमें पंजाब में नहीं लाना है कोरोना

Charanjit Singh Channi
प्रतिरूप फोटो
मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लेकर एक विवादित टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि मैंने आज अरविंद केजरीवाल से फोन पर बात की और उनकी अच्छी सेहत की कामना की। इसी बीच मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि दिल्ली वाले भी कोरोना वायरस की ही तरह हैं और हमें पंजाब में कोरोना नहीं लाना है।

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने मंगलवार को मोरिंडा में एकरैली रैली में संबोधित करते हुए आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को सौगात दी। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए आयोजित रैली में भारी संख्या में महिलाओं का जमावड़ा देखने को मिला। इस दौरान न सिर्फ आमजनों ने बल्कि नेताओं ने भी कोरोना नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई। मंच में मौजूद नेताओं में से एकाद को छोड़ दिया जाए तो किसी ने भी मास्क नहीं पहना है। हालांकि इस रैली में मुख्यमंत्री चन्नी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लेकर एक विवादित टिप्पणी भी की। 

इसे भी पढ़ें: पंजाब में फिर आएगी कांग्रेस या चलेगी झाड़ू, कैप्टन और SAD को भी नहीं आंका जा सकता कम 

केजरीवाल पर बरसे चन्नी 

उन्होंने कहा कि मैंने आज अरविंद केजरीवाल से फोन पर बात की और उनकी अच्छी सेहत की कामना की। इसी बीच मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि दिल्ली वाले भी कोरोना वायरस की ही तरह हैं और हमें पंजाब में कोरोना नहीं लाना है। आज दिल्ली के पैसों से पंजाब में पोस्टर लग रहे हैं और अगर इनकी सरकार आ गई तो फिर पंजाब के पैसों से दिल्ली, महाराष्ट्र में पोस्टर लगेंगे और हम नहीं चाहते हैं कि पंजाब का पैसा बाहर जाए।

दरअसल, दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल कोरोना वायरस की चपेट में आ गए हैं और उन्होंने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट में लिखा था कि मैं कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया हूं। मामूली लक्षण हैं। घर पर ही क्वारंटाइन हूं। पिछले कुछ दिनों में मेरे सम्पर्क में आए लोग, कृपया खुद को दूसरों से दूर रखें और टेस्ट करा लें। 

इसे भी पढ़ें: पंजाब में भगवंत मान होंगे AAP के सीएम उम्मीदवार, जल्द हो सकता है ऐलान 

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री चन्नी ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की मांगों को स्वीकार करते हुए उन्हें बड़ी सौगात दी है। उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में 1400 रुपए, मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को 1,000 रुपए और आंगनवाड़ी सहायिका के मानदेय में 1,050 रुपए की वृद्धि की। इसके अलावा उन्होंने आंगनबाडी कार्यकर्ताओं के वार्षिक भत्ते में 500 रुपए और मिनी आंगनबाडी कार्यकर्ता एवं सहायिका के भत्ते में 250 की बढ़ोतरी की।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़