कब होगा चुनाव तारीखों का ऐलान ? असम में प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के बाद अटकलें तेज

कब होगा चुनाव तारीखों का ऐलान ? असम में प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के बाद अटकलें तेज

प्रधानमंत्री मोदी ने असम में 3,300 करोड़ रुपए से अधिक की कई परियोजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आप सभी लोग चुनाव का इंतजार कर रहे होंगे।

नयी दिल्ली। पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। हालांकि कब होंगे इसकी औपचारिक घोषणा नहीं हुई है लेकिन कहा जा रहा है कि जल्द ही चुनाव आयोग इसका ऐलान करेगी। इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा असम की धरती में दिए गए एक बयान के बाद से यह कयास लगाए जाने लगे कि मार्च के पहले सप्ताह में चुनाव तारीखों का ऐलान हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें: ममता के करीबी रहे शुभेंदु अधिकारी अब 'दीदी' को दे रहे हैं चुनौती 

प्रधानमंत्री मोदी ने असम में 3,300 करोड़ रुपए से अधिक की कई परियोजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आप सभी लोग चुनाव का इंतजार कर रहे होंगे। शायद मुझे याद है कि पिछली बार शायद 4 मार्च को चुनाव घोषित हुआ था। ऐसे में इस बार भी मैं संभावना देखता हूं कि मार्च के पहले सप्ताह में कभी भी चुनाव की घोषणा हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग का चुनाव घोषित करना काम है, वह करेंगे। मेरी कोशिश रहेगी कि चुनाव घोषणा से पहले जितनी बार असम, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल, पुडुचेरी जा सकूं। मैं पूरी कोशिश करूंगा। मार्च सात अगर मान ले चुनाव घोषणा की, पिछली बार चार मार्च को हुआ था इस बार उसके आस-पास हो सकता है। जो भी हो मैं आपके बीच में आने का निरंतर प्रयास करूंगा। 

इसे भी पढ़ें: तेजस के फाइलों में बंद होने की आ गई थी नौबत, हमारी सरकार ने इंजीनियर्स पर जताया भरोसा: PM मोदी 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण के अंत में चुनाव से जुड़ी बात का उल्लेख किया। प्रधानमंत्री के भाषण के बाद यह संभावना जताई जाने लगी कि चुनाव आयोग पहले सप्ताह में चुनाव तारीखों का ऐलान कर सकता है। इसी बीच जानकारी मिली है कि आगामी समय में चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सीएपीएफ के कम से कम 25 हजार जवान तैनात किए गए हैं। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...