मध्य प्रदेश में व्हाईट फंगस ने दी दस्तक, ग्वालियर में पहला मरीज आया सामने

मध्य प्रदेश में व्हाईट फंगस ने दी दस्तक, ग्वालियर में पहला मरीज आया सामने
प्रतिरूप फोटो

जयारोग्य अस्पताल के ईएनटी विभाग के अध्यक्ष डॉ बीपी नार्वे ने जांच की तो उसमें ब्लैक फंगस के लक्षण दिखाई दिए। इसके बाद जांच की गई तो पता चला कि उसे व्हाइट फंगस भी है, हालांकि डॉक्टरों ने युवक का इलाज शुरू कर दिया है।

ग्वालियर। मध्य प्रदेश में ब्लैक फंगस के बाद अब व्हाइट फंगस बीमारी ने भी अपनी दस्तक दे दी है। ग्वालियर के जयारोग्य अस्पताल में एक 25 साल का युवक ब्लैक फंगस की परेशानी को लेकर अस्पताल पहुंचा था, लेकिन जब यहां डॉक्टरों ने इनकी जांच की तो मरीज में ब्लैक के साथ व्हाइट फंगस भी पाया गया, हालांकि अस्पताल के डॉक्टरों की टीम ने दोनों फंगस का सफल ऑपरेशन कर दिया है। लेकिन इस मरीज की पुष्टि के साथ मध्य प्रदेश में अब व्हाइट फंगस बीमारी भी आ गई है।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में ब्लैक फंगस रोग से बचाव के लिए एडवाइजरी जारी

दरअसल, कुछ दिनों पहले 25 साल के इस युवक को कोरोना हुआ था। ठीक होने के बाद उसकी आंखों मे दर्द और सूजन आने लगी थी उसके बाद उसके डॉक्टरों को दिखाया। जयारोग्य अस्पताल के ईएनटी विभाग के अध्यक्ष डॉ बीपी नार्वे ने जांच की तो उसमें ब्लैक फंगस के लक्षण दिखाई दिए। इसके बाद जांच की गई तो पता चला कि उसे व्हाइट फंगस भी है, हालांकि डॉक्टरों ने युवक का इलाज शुरू कर दिया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।