कौन हैं विनय कुमार सक्सेना जो बनाए गए दिल्ली के नए उपराज्यपाल? खादी को बनाया था ब्रांड

Vinay Kumar Saxena
ani
विनय कुमार सक्सेना को सोमवार को दिल्ली का उपराज्यपाल नियुक्त किया गया। राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी बयान में यह जानकारी दी गई। सक्सेना (64) अनिल बैजल का स्थान लेंगे, जिन्होंने निजी कारणों का हवाला देते हुए पिछले सप्ताह पद से इस्तीफा दे दिया था।

नयी दिल्ली। विनय कुमार सक्सेना को सोमवार को दिल्ली का उपराज्यपाल नियुक्त किया गया। राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी बयान में यह जानकारी दी गई। सक्सेना (64) अनिल बैजल का स्थान लेंगे, जिन्होंने निजी कारणों का हवाला देते हुए पिछले सप्ताह पद से इस्तीफा दे दिया था। सक्सेना वर्तमान में खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: अर्जुन सिंह के भाजपा छोड़ने के बाद पार्टी की बंगाल इकाई में दरार गहराती नजर आ रही है

राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी बयान में कहा गया, भारत के राष्ट्रपति को श्री विनय कुमार सक्सेना को उनके पदभार ग्रहण करने की तिथि से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली का उपराज्यपाल नियुक्त करते हुए प्रसन्नता हो रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सक्सेना की नियुक्ति का स्वागत किया और उन्हें अपने मंत्रिमंडल के पूर्ण सहयोग का भरोसा दिलाया। केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, दिल्ली के नवनियुक्त उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना जी का दिल्ली की जनता की तरफ से मैं हार्दिक स्वागत करता हूं।

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर की बिजली अवसंरचना में सुधार के लिए 12 हजार करोड़ रुपये मंजूर किए : मंत्री

दिल्ली की बेहतरी के लिए उन्हें दिल्ली सरकार के मंत्रिमंडल की तरफ से पूर्ण सहयोग मिलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली के उपराज्यपाल रहे अनिल बैजल के साथ मिलकर दिल्ली में कई काम किए और समस्याओं को हल करने की कोशिश की। मुख्यमंत्री ने कहा, वह (बैजल) एक बेहद अच्छे इंसान हैं। भविष्य के लिए मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं और उनके अच्छे स्वास्थ्य और लंबी आयु की कामना करता हूं।

उल्लेखनीय है कि तत्कालीन उपराज्यपाल नजीब जंग के अचानक इस्तीफा देने के बाद 1969 बैच के आईएएस अधिकारी बैजल को दिसंबर 2016 में दिल्ली का 21वां उपराज्यपाल नियुक्त किया गया था। राजस्थान में जेके ग्रुप के साथ बतौर सहायक अधिकारी अपने करियर की शुरुआत करने वाले सक्सेना को वर्ष 1995 में महाप्रबंधक बनाकर गुजरात में एक प्रस्तावित बंदरगाह परियोजना की देखरेख का जिम्मा सौंपा गया था। केवीआईसी में सक्सेना से संबंधित उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, उनका जन्म 23 मार्च, 1958 को हुआ था और वह कानपुर विश्वविद्यालय के छात्र रहे हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़