Restaurant Aquila Closed: साड़ी पहनी महिला को नहीं दी रेस्टोरेंट में एंट्री, अब लग गया ताला

Restaurant Aquila Closed: साड़ी पहनी महिला को नहीं दी रेस्टोरेंट में एंट्री, अब लग गया ताला

साड़ी भारतीय महिलाओं का पारंपरिक पहनावा है। यह विश्व की सबसे पुराने परिधानों में से गिना जाता है। साड़ी का चलन आज से नहीं देवी-देवताओं के समय से हैं। धीरे-धीरे साड़ी को मॉर्डन स्टाइल में फैशन के साथ पहना जाने लगा है।

नयी दिल्ली। साड़ी भारतीय महिलाओं का पारंपरिक पहनावा है। यह विश्व की सबसे  पुराने परिधानों में से गिना जाता है। साड़ी का चलन आज से नहीं देवी-देवताओं के समय से हैं। धीरे-धीरे साड़ी को मॉर्डन स्टाइल में फैशन के साथ पहना जाने लगा है। हाल ही में दिल्ली के एक मशहूर रेस्टोरेंट ‘अकीला’ (Restaurant Aquila) में एक महिला को इस लिए नहीं आने दिया क्योंकि उस महिला ने साड़ी पहनी हुई थी।  रेस्टोरेंट में एंट्री न मिलने का महिला ने विरोध किया और ये बात सुर्खियों में आ गयी। मामला मीडिया में आया जिसके बाद  रेस्टोरेंट पर कार्यवाही की गयी। रेस्टोरेंट के पास मान्‍य लाइसेंस न होने के कारण उसे बंद कर दिया गया।

इसे भी पढ़ें: ब्रिटनी स्पीयर्स की बड़ी जीत, पिता से हुई आजाद! जानिए पूरा मामला

 

 साड़ी पहनी महिला को नहीं दी रेस्टोरेंट में एंट्री

दक्षिण दिल्ली में जिस रेस्टोरेंट ने गत सप्ताह साड़ी पहनी एक महिला को कथित तौर पर प्रवेश नहीं करने दिया था, उसे वैध लाइसेंस नहीं होने के चलते नगर निकाय द्वारा नोटिस जारी किये जाने के बाद बंद कर दिया गया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। दक्षिण दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) के महापौर मुकेश सूर्यन ने इसकी पुष्टि की है कि रेस्टोरेंट बंद हो गया है। सूर्यन ने पीटीआई-से कहा, “अकीला रेस्तरां बिना वैध लाइसेंस के चल रहा था। उसे हमने बंद किये जाने का नोटिस जारी किया, जिसके बाद अब वह बंद हो गया है। रेस्तरां , निकाय से मंजूरी लिए बिना चल रहा था इसलिए हम डीएमसी (दिल्ली नगर निगम) अधिनियम के तहत जुर्माना लगाने के प्रावधान समेत अन्य कार्रवाई की संभावना को भी तलाश रहे हैं।”

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी की अमेरिकी यात्रा काफी सफल रही : भारतीय राजदूत

 रेस्टोरेंट को जारी किया गया नोटिस

एसडीएमसी अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि एंड्रूज गंज के अंसल प्लाजा में स्थित अकीला रेस्तरां को बंद करने का नोटिस जारी किया गया क्योंकि वह बिना वैध लाइसेंस के चल रहा था। नोटिस 24 सितंबर को जारी किया गया था जिसमें कहा गया कि क्षेत्र के लोक स्वास्थ्य निरीक्षक ने 21 सितंबर को जांच में पाया कि प्रतिष्ठान बिना स्वास्थ्य व्यापार लाइसेंस के अस्वच्छ स्थिति में चल रहा था। रेस्तरां ने सार्वजनिक भूमि पर अवैध कब्जा भी किया था। एसडीएमसी की ओर से जारी नोटिस में कहा गया, “लोक स्वास्थ्य निरीक्षक ने 24 सितंबर को फिर से स्थल का निरीक्षण किया और पाया कि उसी स्थिति में व्यवसाय चल रहा था। आपको यह नोटिस मिलने के 48 घंटे के भीतर व्यवसाय बंद करने का निर्देश दिया जाता है और ऐसा नहीं करने पर बिना कोई नोटिस जारी किये सीलिंग समेत उचित कार्रवाई की जा सकती है।”

 रेस्तरां पर लगा ताला

रेस्तरां के मालिक ने 27 सितंबर को दिए जवाब में कहा कि उक्त व्यवसाय तत्काल बंद कर दिया गया है और उसे एसडीएमसी ट्रेड लाइसेंस के बिना नहीं चलाया जाएगा। गत सप्ताह एक फेसबुक पोस्ट में एक महिला ने दावा किया था कि उसे उस रेस्तरां में प्रवेश इसलिए नहीं करने दिया गया कि वह साड़ी पहनी हुई थी। महिला ने रेस्तरां के कर्मचारियों के साथ हुई नोकझोंक का कथित वीडियो भी पोस्ट किया था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...