अखिलेश पर योगी का हमला, अपराधियों-दंगाइयों को टिकट देकर उन्होंने बता दिया कि यह नई नहीं वही सपा है

अखिलेश पर योगी का हमला, अपराधियों-दंगाइयों को टिकट देकर उन्होंने बता दिया कि यह नई नहीं वही सपा है

अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रत्याशियों की सूची ने पुन: सपा के वास्तविक चरित्र को प्रदर्शित कर दिया है। दंगाइयों, भूमाफियाओं और पेशेवर गुंडों को उम्मीदवार बना कर इन्होंने बता दिया है कि ये नई नहीं ये वही सपा है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गाजियाबाद में थे। गाजियाबाद में उन्होंने कोरोना वायरस वैक्सीनेशन को लेकर एक महत्वपूर्ण बैठक की और साथ ही साथ कई दिशा-निर्देश भी दिए। इसी दौरान उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा। अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रत्याशियों की सूची ने पुन: सपा के वास्तविक चरित्र को प्रदर्शित कर दिया है। दंगाइयों, भूमाफियाओं और पेशेवर गुंडों को उम्मीदवार बना कर इन्होंने बता दिया है कि ये नई नहीं ये वही सपा है।

इसके साथ ही योगी ने दावा किया कि 10 मार्च को जब भारतीय जनता पार्टी प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाएगी तब यह अपराधी पहले की ही तरह फिर से बिल में घुस जाएंगे। इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस की तीसरी लहर नियंत्रण में है। प्रदेश में लगातार वैक्सीनेशन का कार्य तेजी से चल रहा है। बेहतर प्रबंधन और दवाइयों की वजह से लोगों में फिलहाल गंभीर लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हैं। योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश को ऑक्सीजन उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने के लिए हमने प्रदेश में 551 ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए हैं। राज्य के प्रत्येक ज़िले में एक समर्पित एकीकृत कोविड नियंत्रण केंद्र है। 

वहीं योगी सराकर से मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि वैक्सीनेशन को कल 1 वर्ष पूरे हुए और दुनिया में प्रसन्नता व्यक्त की जा रही है कि भारत ने कोरोना को बेहतर ढंग से नियंत्रित किया है। लेकिन कुछ नेता लोगों को गुमराह कर रहे है कि ये बीजेपी की वैक्सीन है जबकि उनके पिता मुलायम सिंह यादव ने चुपचाप वैक्सीन लगा ली। उन्होंने कहा कि कल मैंने उनकी (अखिलेश यादव) पत्नी डिंपल जी से अनुरोध किया कि आप अपने पति को भी वैक्सीन लगवा दीजिए ताकि जनता ये ना समझे कि ये कोरोना बढ़ाने वाले नहीं है बल्कि कोरोना बढ़ाने वाले लोग है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...