बदला उत्तर प्रदेश में निवेश का महौल, योगी बोले- भारत की उभरती हुई अर्थव्यवस्था बना राज्य

बदला उत्तर प्रदेश में निवेश का महौल, योगी बोले- भारत की उभरती हुई अर्थव्यवस्था बना राज्य

बुधवार को वह अपने क्षेत्र गोरखपुर में थे जहां उन्होंने दावा किया कि विकास के पथ पर उत्तर प्रदेश लगातार बढ़ रहा है। इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्तमान में उत्तर प्रदेश भारत की उभरती हुई अर्थव्यवस्था बन गया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार प्रदेश का दौरा कर रहे हैं। अपने काम को लेकर वह लोगों के बीच जाने की कोशिश में हैं। अगले साल विधानसभा के चुनाव होने हैं। ऐसे में अपने कामकाज को लेकर वह लगातार जनता के बीच जा रहे हैं। बुधवार को वह अपने क्षेत्र गोरखपुर में थे जहां उन्होंने दावा किया कि विकास के पथ पर उत्तर प्रदेश लगातार बढ़ रहा है। इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्तमान में उत्तर प्रदेश भारत की उभरती हुई अर्थव्यवस्था बन गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह बयानजंगल कौड़िया में स्थित महंत अवैद्यनाथ महाविद्यालय का लोकार्पण करने के बाद अपने संबोधन में दिया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश बदल रहा है और अब यह देश की उभरती अर्थव्यवस्था है। उन्होंने दावा किया कि केंद्र की 44 योजनाओं के क्रियान्वयन के साथ ही उत्तर प्रदेश शीर्ष स्थान पर है। 

 

इसे भी पढ़ें: लखीमपुर पहुंचे कानून मंत्री बृजेश पाठक, मारे गए भाजपा कार्यकर्ता के परिवार से मिले, नहीं गये किसानों के घर


योगी का दावा

अपने संबोधन में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में दुनिया के लिए निवेश का सर्वश्रेष्ठ स्थान बन गया है और हम सभी को देश के श्रेष्ठ अर्थव्यवस्था में उत्तर प्रदेश का नाम शामिल करने के लिए मिलकर काम करना होगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने महंत अवैद्यनाथ की 12 फुट ऊंची मूर्ति का अनावरण भी किया। योगी ने दावा किया कि सुरक्षा के माहौल के मामले में उत्तर प्रदेश देश में सर्वश्रेष्ठ है। पिछले चार वर्षों के दौरान राज्य की 30,000 महिला पुलिसकर्मी इस बात की गारंटी दे रही हैं कि राज्य में महिलाएं और बेटियां सुरक्षित हैं। उन्होंने यह भी कहा कि उनकी सरकार ने कोविड-19 महामारी को रोकने में सफलता पाई है। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश: गांव-गांव युवाओं का संबल बनी ग्राम स्वरोजगार योजना, गांव में बेरोजगारी हुई कम

विपक्ष पर निशाना

इसके साथ ही योगी ने विपक्ष पर भी निशाना साधा। योगी ने कहा कि प्रदेश की पिछली सरकारों के कार्यकाल के दौरान सड़कें चौड़ी नहीं थीं, बिजली की आपूर्ति अच्छी नहीं थी, गरीबों को राशन नहीं मिल रहा था और महिलाओं को सुरक्षा की गारंटी नहीं थी। लेकिन जब अच्छी नियत से काम किया जाता है तो उसका परिणाम भी अच्छा होता है। मुख्यमंत्री ने यह भी दावा किया कि पूर्व में किसानों को अपनी उपज का सही दाम नहीं मिलता था। लेकिन मौजूदा सरकार ने अनेक क्रय केंद्र खोलकर किसानों का अनाज समर्थन मूल्य पर खरीदा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में गोरखपुर शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं का केंद्र बनता जा रहा है। एक महीने के अंदर मोदी द्वारा यहां के एम्स का उद्घाटन किया जाएगा। इसके अलावा गोरखपुर आयुष विश्वविद्यालय का निर्माण भी किया जा रहा है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...