एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में अनु-पारूल ने जीते पदक, दुती ने बनाया राष्ट्रीय रिकॉर्ड

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 22 2019 3:29PM
एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में अनु-पारूल ने जीते पदक, दुती ने बनाया राष्ट्रीय रिकॉर्ड
Image Source: Google

दुती चंद ने 100 मीटर में खुद का राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़कर सेमीफाइनल में जगह बनायी लेकिन भारत को महिलाओं की 400 मीटर में निराशा हाथ लगी क्योंकि पदक की दावेदार हिमा दास पीठ दर्द के कारण दौड़ पूरी नहीं करपायी।

दोहा। भाला फेंक की एथलीट अनुरानी और 5000 मीटर की धाविका पारूल चौधरी ने एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप के पहले दिन रविवार को यहां भारत को क्रमश: रजत और कांस्य पदक दिलाये। दुती चंद ने 100 मीटर में खुद का राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़कर सेमीफाइनल में जगह बनायी लेकिन भारत को महिलाओं की 400 मीटर में निराशा हाथ लगी क्योंकि पदक की दावेदार हिमा दास पीठ दर्द के कारण दौड़ पूरी नहीं करपायी। 

छब्बीस वर्षीय अनु ने 60.22 मीटर भाला फेंककर रजत पदक जीता। चीन के लियु हुइहुइ ने 65.83 मीटर भाला फेंका और उन्हें स्वर्ण पदक मिला। इस स्पर्धा में भाग लेने वाली अन्य भारतीय शर्मिला कुमारी 54.48 मीटर भाला फेंककर सातवें स्थान पर रही। चौबीस वर्षीय पारूल ने महिलाओं की 5000 मीटर दौड़ में 15 मिनट 36.03 सेकेंड का समय लेकर तीसरा स्थान हासिल किया। यह उनका सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत प्रदर्शन है। इस दौड़ में भाग ले रही अन्य भारतीय संजीवनी जाधव (15:41.12) चौथे स्थान पर रही। 

बहरीन की मुतिली विनफ्रेड यावी (15:28.87) को स्वर्ण और उनकी हमवतन बोंतु रेबितु (15:29.60) को रजत पदक मिला। सरिताबेन गायकवाड़ (58.17 सेकेंड) और एम अर्पिता (58.20 सेकेंड) ने महिलाओं के 400 मीटर तथ एम पी जाबिर ने पुरूषों के 400 मीटर बाधा दौड़ के फाइनल्स के लिये क्वालीफाई किया। इससे पहले तेईस बरस की दुती ने 11.28 सेकंड का समय निकालकर महिलाओं की 100 मीटर दौड़ में चौथी हीट जीती। उसने इसके साथ ही 11.29 सेकंड का अपना राष्ट्रीय रिकार्ड तोड़ दिया जो उसने पिछले साल गुवाहाटी में बनाया था।

इसे भी पढ़ें: एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के पहले दिन भारतीय खिलाड़ियों ने की प्रभावी शुरुआत



वह हालांकि विश्व चैम्पियनशिप के क्वालीफिकेशन मार्क 11.24 सेकंड को नहीं छू सकी। अन्य भारतीयों में जिंसन जानसन (पुरूषों की 800 मीटर), मोहम्मद अनस और राजीव अरोकिया (400 मीटर), प्रवीण चित्रवेल (पुरूषों की त्रिकूद), गोमती एम (महिलाओं की 1500 मीटर) अगले दौर में पहुंच गए। राष्ट्रीय रिकार्डधारी जानसन ने पुरूषों की 800 मीटर दौड़ में 1 : 53 . 43 का समय निकाला। वह कतर के जमाल हेयरेन से पीछे रहे । मनजीत सिंह की जगह टीम में शामिल किये गए मोहम्मद अफजल भी सेमीफाइनल में पहुंच गए।

इसे भी पढ़ें: डोपिंग से बरी होने के बाद इस एथलीट ने 43 सदस्यीय भारतीय टीम में बनाई जगह

महिलाओं की 800 मीटर दौड़ में गोमती ने 2 : 04 . 96 का समय निकाला और वह दूसरे स्थान पर रहे। भारत की ही ट्विंकल चौधरी चौथे स्थान पर रहकर क्वालीफाई नहीं कर सकी। अरोकिया 400 मीटर हीट में 46 . 25 की टाइमिंग के साथ सेमीफाइनल में पहुंच गए। वहीं अनस ने 46 . 46 सेकंड का समय निकालकर तीसरा स्थान हासिल किया। पुरूषों की त्रिकूद में चित्रावेल नौवें स्थान पर रहे।हिमा दास कमर की मांसपेशी में खिंचाव के कारण 400 मीटर हीट पूरी नहीं कर सकी । भारत की एम आर पूवम्मा दूसरे स्थान पर रही और फाइनल में जगह बनाई।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Video