कोई भी गोल करे, जश्न का तरीका एक ही रहेगा: सुनील छेत्री

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 7 2019 9:50AM
कोई भी गोल करे, जश्न का तरीका एक ही रहेगा: सुनील छेत्री
Image Source: Google

उन्होंने मैच के बाद कहा, ‘‘रिकार्ड मायने नहीं रखते, गोल कौन करता है यह मायने नहीं रखता। जो भी गोल करता है, जश्न मनाने का तरीका समान होता है। मैं खुश हूं कि हमने इस मैच से तीन अंक हासिल किये। ’’

अबुधाबी। भारत के करिश्माई स्ट्राइकर सुनील छेत्री रविवार को एएफसी एशियाई कप में थाईलैंड पर मिली जीत में दो गोल करने के साथ अर्जेंटीना के सुपरस्टार लियोन मेस्सी को गोल की संख्या के मामले में पछाड़ने में सफल रहे लेकिन उनके लिये यह रिकार्ड मायने नहीं रखता। भले ही दोनों खिलाड़ियों का कद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग हो लेकिन गोल करने के मामले में यह भारतीय खिलाड़ी आगे है।



 
उन्होंने मैच के बाद कहा, ‘‘रिकार्ड मायने नहीं रखते, गोल कौन करता है यह मायने नहीं रखता। जो भी गोल करता है, जश्न मनाने का तरीका समान होता है। मैं खुश हूं कि हमने इस मैच से तीन अंक हासिल किये। ’’ चौंतीस साल के खिलाड़ी का दूसरा गोल विश्व स्तरीय गोल था, उन्होंने कहा, ‘‘दस साल के बाद ही मैं अपने गोल के बारे में सोच सकता हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस समय हमें सिर्फ मैचों पर ध्यान लगाये रखने की जरूरत है। गोल आते रहें, इसी की जरूरत है, यह मायने नहीं रखता कि गोल कौन करता है।’’ 



 
छेत्री ने कहा, ‘‘जब भी कोई गोल करता है, आप जश्न और खुशी देख सकते हो। मैं लड़कों के लिये बहुत खुश हूं। हर खिलाड़ी दौड़ता रहा और बेहतरीन डिफेंस दिखाया। ’’ उन्होंने आगामी मुकाबलों के बारे में बात करते हुए कहा, ‘‘जब हमने सोचना शुरू किया तो यह कठिन पूल है, हमें लगा कि सभी अन्य टीमें हमसे ज्यादा अनुभवी और बेहतर हैं। लेकिन जिस तरह से खिलाड़ियों ने प्रदर्शन किया, बेहतरीन जज्बा दिखाया, वो शानदार रहा। मैं पहले भी कह चुका हूं कि हमारे खिलाफ खेलना बहुत मुश्किल है। ’’ छेत्री ने कहा, ‘‘हम भले ही इतनी ज्यादा तकनीक वाली टीम नहीं हों लेकिन हम अंत तक जूझते हैं और लड़कों ने यही दिखाया। ’’

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story