ऑस्ट्रेलिया ने रद्द किया नोवाक जोकोविच का वीजा, निर्वासित होना तय

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 14, 2022   14:41
ऑस्ट्रेलिया ने रद्द किया नोवाक जोकोविच का वीजा, निर्वासित होना तय

आस्ट्रेलिया ने जोकोविच का वीजा रद्द कर दिया है।आस्ट्रेलियाई ओपन तीन दिन बाद शुरू होने वाला है। जोकोविच के वकील फेडरल सर्किट और फैमिली कोर्ट में इसके खिलाफ अपील कर सकते हैं।

मेलबर्न। ऑस्ट्रेलिया सरकार ने टेनिस स्टार नोवाक जोकोविच का वीजा दूसरी बार रद्द कर दिया है जिससे उन्हें देश से निर्वासित किया जायेगा। आव्रजन मंत्री एलेक्स हॉके ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने मंत्री के तौर पर अपने विशेषाधिकार का प्रयोग करके सर्बिया के इस 34 वर्षीय खिलाड़ी का वीजा जनहित आधार पर रद्द कर दिया है। आस्ट्रेलियाई ओपन तीन दिन बाद शुरू होने वाला है। जोकोविच के वकील फेडरल सर्किट और फैमिली कोर्ट में इसके खिलाफ अपील कर सकते हैं। हॉके ने कहा कि उन्होंने जनहित को ध्यान में रखकर स्वास्थ्य कारणों से यह फैसला लिया है। उन्होंने एक बयान में कहा ,‘‘ मौरिसन सरकार आस्ट्रेलियाई सीमाओं की कोरोना महामारी के इस दौर में रक्षा करने को लेकर प्रतिबद्ध है।’’ जोकोविच का वीजा दूसरी बार रद्द हुआ है।

इसे भी पढ़ें: चीनी ताइपै एशियाई कप के लिये पहुंचने वाली पहली टीम, भारतीय टीम की उड़ान में विलंब

पिछले सप्ताह मेलबर्न पहुंचते ही आस्ट्रेलिया सीमा बल द्वारा उनका वीजा रद्द कर दिया गया था क्योंकि आस्ट्रेलिया के कड़े कोरोना टीकाकरण नियमों से मेडिकल छूट के लिये जरूरी मानदंडों पर वह खरे नहीं उतरते थे। उन्होंने चार रात पृथकवास होटल में बिताई जिसके बाद सोमवार को जज ने उनके पक्ष में फैसला दिया। मेलबर्न के आव्रजन वकील कियान बोन ने कहा कि जोकोविच के वकीलों के लिये अब इस फैसले को अदालत में बदलवा पाना काफी मुश्किल होगा। उन्होंने कहा ,‘‘ जोकोविच के लिये अब आस्ट्रेलियाई ओपन में खेलने की अनुमति पाना बहुत मुश्किल होगा। अब उनके पास समय भी नहीं है।’’ वकीलों को फेडरल सर्किट एंड फैमिली कोर्ट में एक ड्यूटी जज के पास या फेडरल कोर्ट में सीनियर जज के पास जाकर दो आपात आदेश लेने होंगे। पहला आदेश उनका निर्वासन रोकना और दूसरा हॉके को जोकोविच का वीजा बहाल करने का निर्देश देने का होगा। बोन ने कहा ,‘‘ दूसरा आदेश ऐसा है जो आज तक कभी नहीं हुआ। अदालत सरकार के किसी सदस्य को वीजा जारी करने का आदेश बहुत कम ही देती है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।