अमेरिकी ओपन में जोकोविच और ओसाका पर होंगी नजरें, सोमवार से शुरू होगा ग्रैंडस्लैम

osaka
अमेरिकी ओपन में जोकोविच और ओसाका पर होंगी नजरें।जोकोविच के फेडरर और नडाल के समान 20 ग्रैंडस्लैम हैं। दूसरी ओर मानसिक स्वास्थ्य कारणों से फ्रेंच ओपन से बीच में ही हटी नाओमी ओसाका को भी पता है कि सभी की नजरें उन पर होगी।

न्यूयॉर्क। अपने कैरियर का रिकॉर्ड 21वां ग्रैंडस्लैम और पिछले पांच दशक से अधिक समय में एक कैलेंडर वर्ष में सारे ग्रैंडस्लैम जीतने की दहलीज पर खड़े नोवाक जोकोविच पर अमेरिकी ओपन टेनिस में सभी की नजरें होंगी। जोकोविच ने कहा ,‘‘ इसमें कोई शक नहीं कि मेरे लिये यह बहुत बड़ी प्रेरणा है। लेकिन मुझे अहसास है कि मानसिक रूप से संतुलन कैसे बनाना है। मेरे यहां खेलने को लेकर काफी हाइप है चूंकि रफेल नडाल और रोजर फेडरर भी नहीं खेल रहे हैं। ’’ जोकोविच के फेडरर और नडाल के समान 20 ग्रैंडस्लैम हैं। दूसरी ओर मानसिक स्वास्थ्य कारणों से फ्रेंच ओपन से बीच में ही हटी नाओमी ओसाका को भी पता है कि सभी की नजरें उन पर होगी।

इसे भी पढ़ें: टेनिस स्टार राफेल नडाल ने किया अमेरिकी ओपन से हटने का फैसला, जानिए कारण

पिछली बार की चैम्पियन ओसाका ने कहा ,‘इस बार कुछ अलग हालात है। मुझे नहीं पता कि इसका वर्णन कैसे करूं लेकिन लोग मुझे अलग नजर से देखेंगे। मैं लोगों का नजरिया नहीं बदल सकती लेकिन इसका सामना करने के लिये खुद को तैयार कर रही हूं।’’ साल का आखिरी ग्रैंडस्लैम सोमवार से शुरू होगा जिसमें पूरी संख्या में दर्शक मौजूद होंगे। यहां 1997 के बाद पहली बार सेरेना और वीनस विलियम्स, फेडरर और नडाल नहीं खेल रहे हैं। सबसे पहले 1938 में डॉन बज ने और 1962 तथा 1969 में रॉड लावेर ने एक कैलेंडर वर्ष में सारे ग्रैंडस्लैम जीते थे। पिछले 52 साल में कोई पुरूष खिलाड़ी एक सत्र में पहले तीन ग्रैंडस्लैम भी नहीं जीत सका है जो जोकोविच ने किया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़