गंभीर ने कहा, कोहली और शास्त्री को पंत से बात करनी चाहिए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 26, 2019   20:15
गंभीर ने कहा, कोहली और शास्त्री को पंत से बात करनी चाहिए

गंभीर ने साथ ही कहा कि भारत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में चोटिल तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की कमी खलेगी।

नयी दिल्ली। भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर का मानना है कि ऋषभ पंत की उसके करियर में इतनी जल्दी आलोचना करना उचित नहीं है और उन्होंने कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री से अपील की कि वे शाट चयन पर उसका मार्गदर्शन करें। तीनों प्रारूपों में भारत की पहली पसंद विकेटकीपर पंत को हाल में वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीमित ओवरों की श्रृंखलाओं में खराब शाट चयन के कारण आलोचना का सामना करना पड़ा था। गंभीर ने यहां एक कार्यक्रम के इतर कहा, ‘‘अगर आप ध्यान पूरी तरह से युवा खिलाड़ी पर लगा दोगे जो लगभग एक साल से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहा है तो वह दबाव महसूस करेगा।’’ 

इसे भी पढ़ें: पंत के बचाव में उतरे युवराज, कहा- आलोचना बंद कर उसे सही मार्गदर्शन देने की जरूरत

उन्होंने कहा, ‘‘इतने कम समय में उसने (पंत ने) दो टेस्ट शतक लगाए हैं। अगर आपको उसका शाट चयन आदर्श नहीं लगता तो यही उसकी खेलने की शैली है। अगर आप उसको टीम में मौका देते हो तो उसका समर्थन करो। इतनी जल्दी उसकी आलोचना करना गलत है।’’ गंभीर ने कहा, ‘‘सिर्फ (विराट) कोहली ही नहीं बल्कि कोच रवि शास्त्री को भी पंत से बात करनी चाहिए। अगर खिलाड़ी फार्म में नहीं है और अगर उसका शाट चयन परफेक्ट नहीं है तो इससे उसे सुधार करने और दोबारा लय हासिल करने में मदद मिलेगी। ’’ पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास को लेकर चल रही अटकलों पर गंभीर ने कहा, ‘‘मैंने हमेशा से कहा है कि संन्यास का फैसला किसी का भी निजी फैसला है। मुझे लगता है कि चयनकर्ताओं को धोनी से बात करनी चाहिए और उससे उसकी योजनाओं के बारे में पूछना चाहिए क्योंकि अगर आप भारत के लिए खेलते हो तो आप यह नहीं चुन सकते कि आपको किसी श्रृंखला में खेलना है और किसमें नहीं।’’ 

इसे भी पढ़ें: आखिर कैसे युवराज की मदद से रिषभ पंत के प्रदर्शन में आ सकता है निखार !

राहुल द्रविड़ के हितों के टकराव मामले पर उन्होंने कहा, ‘‘यह मुश्किल सवाल है। अगर द्रविड़ एनसीए कोच रहते हैं तो देश और युवाओं के लिए इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता।’’ गंभीर ने साथ ही कहा कि भारत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में चोटिल तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की कमी खलेगी। उन्होंने कहा, ‘‘वह टेस्ट क्रिकेट में नंबर एक गेंदबाज है। निश्चित तौर पर टीम को उसकी कमी खलेगी।’’ रोहित शर्मा को टेस्ट टीम में सलामी बल्लेबाज के रूप में शामिल किए जाने पर गंभीर ने कहा कि मुंबई का यह बल्लेबाज इस चुनौती के लिए तैयार है। उन्होंने कहा, ‘‘रोहित ने विश्व कप में पांच शतक लगाए और इसलिए टीम में उसे जगह मिलना हैरानी भरा नहीं है। अगर आपको उसे टीम में शामिल किया है तो उसे अंतिम एकादश में शामिल किया जाना चाहिए क्योंकि वह शानदार बल्लेबाज है और मुझे लगता है कि चुनौती के लिए तैयार है।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।