गोमती और तूर ने एशियाई एथलेटिक्स में भारत को दिलाए गोल्ड

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 23 2019 10:28AM
गोमती और तूर ने एशियाई एथलेटिक्स में भारत को दिलाए गोल्ड
Image Source: Google

उन्होंने 86.23 मीटर भाला फेंका जो उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। शिवपाल ने 83 मीटर के क्वालीफाईंग मार्क को हासिल करके विश्व चैंपियनशिप के लिये भी क्वालीफाई किया जो सितंबर अक्टूबर में इसी स्थान पर होगी।

दोहा। गोमती मारिमुतु ने महिलाओं की 800 मीटर दौड़ और तेजिंदरपाल सिंह तूर ने गोला फेंक में स्वर्ण पदक जीते जिससे भारत एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप के दूसरे दिन सोमवार को यहां पांच पदक जीतने में सफल रहा। तीस वर्षीय गोमती ने दो मिनट 02.70 सेकेंड का समय निकालकर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और भारत का स्वर्ण पदक का खाता खोला।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में अनु-पारूल ने जीते पदक, दुती ने बनाया राष्ट्रीय रिकॉर्ड

गोमती ने कहा, ‘‘फिनिश लाइन पार करने से पहले तक मैंने महसूस ही नहीं किया कि मैंने स्वर्ण पदक जीत लिया है। अंतिम 150 मीटर में काफी कड़ा मुकाबला था।’’राष्ट्रीय रिकार्ड धारक और प्रबल दावेदार तूर ने पहले ही दौर में 20 . 22 मीटर के प्रयास के साथ पुरुष गोला फेंक में स्वर्ण पदक जीता। तूर का निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 20 . 75 मीटर है। इसके बाद शिवपाल ने पुरूषों के भाला फेंक में रजत पदक हासिल किया। उन्होंने 86.23 मीटर भाला फेंका जो उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। शिवपाल ने 83 मीटर के क्वालीफाईंग मार्क को हासिल करके विश्व चैंपियनशिप के लिये भी क्वालीफाई किया जो सितंबर अक्टूबर में इसी स्थान पर होगी। जाबिर मदारी पल्लियालिल और सरिताबेन गायकवाड़ ने क्रमश: पुरूषों और महिलाओं की 400 मीटर बाधा दौड़ में कांस्य पदक जीते। 
इन पांच पदकों से भारत के कुल पदकों की संख्या 10 हो गयी जिसमें दो स्वर्ण, तीन रजत और पांच कांस्य पदक शामिल हैं। भारत ने रविवार को दो रजत और तीन कांस्य पदक जीते थे। फर्राटा धाविका दुती चंद ने 100 मीटर में लगातार दूसरे दिन अपना राष्ट्रीय रिकार्ड तोड़ा लेकिन फाइनल में 11 .44 सेकेंड का निराशाजनक प्रदर्शन करते हुए पांचवें स्थान पर रहीं। दुति ने रविवार को हीट में 11.28 सेकेंड का समय निकालने के बाद सोमवार को सेमीफाइनल में 11.26 सेकेंड का समय लेकर अपने रिकार्ड में सुधार किया था। 
 
भारत को दूसरे दिन पहला पदक 24 साल की गायकवाड़ ने दिलवाया। उन्होंने महिलाओं की 400 मीटर बाधा दौड़ 57.22 सेकेंड में पूरी की। जाबिर ने इसके बाद 49.13 सेकेंड के साथ पुरूषों की इस स्पर्धा में तीसरा स्थान हासिल किया। जाबिर ने इसके साथ विश्व चैंपियनशिप के लिये भी क्वालीफाई किया जिसका क्वालीफाईंग मार्क 49.30 सेकेंड था। धारून अयासामी इस स्पर्धा में विश्व चैंपियनशिप के लिये क्वालीफाई करने वाले पहले भारतीय थे। वह चोटिल होने के कारण एशियाई चैंपियनशिप में नहीं खेल पाये। पुरूषों की 400 मीटर में मौजूदा चैंपियन मोहम्मद अनस और अरोकिया राजीव पदक जीतने नाकाम रहे। राजीव चौथे और अनस आठवें स्थान पर रहे। 


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story