हॉकी में लगातार आगे बढने के लिए भारत को फिर शुरू करनी चाहिए HIL

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 30, 2018   15:23
हॉकी में लगातार आगे बढने के लिए भारत को फिर शुरू करनी चाहिए HIL

आस्ट्रेलिया के महान कोच रिक चार्ल्सवर्थ का मानना है कि पिछले एक दशक में भारतीय हाकी ने जो तरक्की की है, उसको भुनाने के लिये हाकी इंडिया लीग फिर से शुरू की जानी चाहिये।

भुवनेश्वर। आस्ट्रेलिया के महान कोच रिक चार्ल्सवर्थ का मानना है कि पिछले एक दशक में भारतीय हाकी ने जो तरक्की की है, उसको भुनाने के लिये हाकी इंडिया लीग फिर से शुरू की जानी चाहिये। भारतीय हाकी टीम के साथ 2008 में चार महीने के लिये जुड़े चार्ल्सवर्थ ने प्रेस ट्रस्ट से कहा, ‘भारत ने अच्छी तरक्की है। एक दशक पहले वे दसवीं रैंकिंग पर थे और आज पांचवें स्थान पर है। मेरा मानना था कि पदक जीतने की स्थिति में पहुंचने में दस साल लोंगे।’ उन्होंने कहा कि मुझे नहीं पता कि भारत में घरेलू स्पर्धाओं का क्या ढांचा है। भारत को हाकी इंडिया लीग फिर शुरू करनी चाहिये।

इसे भी पढ़ें: हॉकी विश्व कप में अर्जेंटीना ने स्पेन को तो न्यूजीलैंड ने को फ्रांस 2-1 से हराया

विश्व कप के दौरान यहां कमेंट्री के लिये आये चार्ल्सवर्थ ने कहा कि भारत सरदार सिंह, रूपिंदर पाल सिंह, एस वी सुनील के बिना यह टूर्नामेंट खेल रहा है लेकिन टीम अच्छी है। भारत के पास अब अधिक गहराई है। हाकी इंडिया लीग ने वित्तीय कारणों से इस साल हाकी लीग का आयोजन नहीं किया । अगले साल हालांकि फाइव अ साइड प्रारूप में इसकी वापसी की योजना है। उन्होंने कहा कि इस बार विश्व कप शीर्ष छह टीमों में से कोई भी जीत सकता है। उन्होंने कहा कि जर्मनी, नीदरलैंड, अर्जेंटीना, बेल्जियम और भारत दावेदार हैं। इनमें से ही कोई जीतेगा। भारत यहां पदक जीत सकता है लेकिन पहले सेमीफाइनल में पहुंचना जरूरी है। उसके बाद कुछ भी हो सकता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।