वेस्टइंडीज पर जीत का श्रेय मोहम्मद शमी ने अपने आपको दिया

mohammed-shami-credited-himself-for-the-victory-over-the-west-indies
शमी को पिछले डेढ़ वर्ष में घरेलू हिंसा के आरोपों से जूझना पड़ा जिसके बाद लंबित जांच तक उन्हें बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंध सूची से हटा दिया गया और फिटनेस के आधार पर उन्हें एक टेस्ट मैच से भी बाहर बैठना पड़ा।

मैनचेस्टर। भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का कहना है कि पिछले 18 महीनों में इतना कुछ झेलने के बाद अब शानदार प्रदर्शन के हकदार भी वह खुद ही हैं। शमी ने कहा गुरुवार को विश्व कप में वेस्टइंडीज पर 125 रन की जीत के बाद कहा कि श्रेय। और किसको, बस मुझे। मैं खुद को पूरा श्रेय देता हूं। शमी को पिछले डेढ़ वर्ष में घरेलू हिंसा के आरोपों से जूझना पड़ा जिसके बाद लंबित जांच तक उन्हें बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंध सूची से हटा दिया गया और फिटनेस के आधार पर उन्हें एक टेस्ट मैच से भी बाहर बैठना पड़ा। 

लेकिन वह अब अपनी सर्वश्रेष्ठ फार्म में वापसी कर चुके हैं। उनकी तेजी और स्विंग के बारे में पूछने पर शमी ने कहा कि क्योंकि मुझे इन सब के बाद यह झेलना पड़ा। पिछले 18 महीनों में जो कुछ हुआ, वह सब मुझे ही झेलना पड़ता। इसलिए इसका श्रेय भी मुझे ही जाता है। शमी ने एक हैट्रिक सहित दो मैचों में आठ विकेट चटकाये हैं। उन्होंने कहा कि मैं अल्लाह का शुक्रिया अदा करता हूं कि उसने मुझे इस सबसे -पारिवारिक मुद्दों से लेकर फिटनेस तक- से लड़ने की ताकत दी।अब मैं केवल देश के लिए अच्छा करने पर ध्यान लगाये हूं।

इसे भी पढ़ें: अगर मैं टीम प्रबंधन में होता तो पंत को चौथे नंबर पर खिलाता: पूर्व भारतीय कप्तान श्रीकांत

अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के खिलाफ शानदार प्रदर्शन के बारे में शमी ने कहा कि फिटनेस पर काम करना टर्निंग प्वाइंट रहा। उन्होंने कहा कि यह केवल ‘यो यो’ टेस्ट में विफलता के बारे में नहीं था। ऐसा भी समय होता है जब आपकी लय गड़बड़ा जाती है। मैं विफल रहा वो एक अलग बात है लेकिन फिर मैंने कड़ी मेहनत की और अपनी फिटनेस में सुधार किया है। मुझे लगता है कि मैं अब अच्छी लय में हूं क्योंकि मैंने वजन कम किया है। अब मेरे लिए सब कुछ सही चल रहा है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़