नो-बॉल विवाद: मैच रेफरी की रिपोर्ट में अंपायर के खिलाफ कुछ भी गलत नहीं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 30, 2019   11:54
नो-बॉल विवाद: मैच रेफरी की रिपोर्ट में अंपायर के खिलाफ कुछ भी गलत नहीं

मैच के बाद बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने मुंबई इंडियन्स के गेंदबाज लसित मलिंगा की पारी की अंतिम गेंद को नो बॉल नहीं देने पर गुस्से का इजहार किया था। बेंगलोर की टीम ने इस मैच को छह रन से गंवा दिया।

नयी दिल्ली।बीसीसीआई मैच रेफरी मनु नैयर ने मुंबई इंडियन्स और रॉयल चैलेंजर बेंगलोर के बीच गुरुवार को हुए आईपीएल मैच में खराब अंपायरिंग के खिलाफ अपनी रिपोर्ट में अंपायर सुंदरम रवि और सी नंदन के खिलाफ कुछ भी आलोचनात्मक नहीं लिखा है।मैच के बाद बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने मुंबई इंडियन्स के गेंदबाज लसित मलिंगा की पारी की अंतिम गेंद को नो बॉल नहीं देने पर गुस्से का इजहार किया था। बेंगलोर की टीम ने इस मैच को छह रन से गंवा दिया।

इसे भी पढ़ें: संजू सैमसन ने जड़ा IPL 12 सीज़न का पहला शतक

यह पता चला है कि अंपायर रवि ने मैच के बाद कोहली से मुलाकात कर इस पर खेद जताया।आईपीएल के एक अधिकारी ने बताया, नैयर की रिपोर्ट में बहुत ज्यादा आलोचना नहीं की गयी है।उन्होंने कहा, कोहली नाराज थे और उन्होंने रवि को कहा कि नो बॉल नहीं दिया जाना उनकी टीम के लिए महंगा साबित हुआ। रवि ने इस पर खेद जताते हुए मना कि उन्होंने उस समय सही फैसला नहीं लिया।

इसे भी पढ़ें: अंपायर के फैसले पर बोले कोहली, 'हम IPL खेल रहे हैं, क्लब क्रिकेट नहीं'

अधिकारी ने कहा कि नैयर की रिपोर्ट में आलोचना नहीं की गयी है क्योकि यह दबाव की स्थिति में मानवीय चूक थी। उन्होंने उन रिपोर्टों को भी खारिज किया जिसमें कहा गया था कि कोहली रवि कि शिकायत के लिए मैच रेफरी के कमरे में गये थे। उन्होंने कहा, कोहली के मैच रेफरी के कमरे में जाने की खबर गलत है। ऐसा कुछ नहीं हुआ था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।