• पाक में खेला जाएगा 10 साल बाद टेस्ट मैच, सीरीज के लिए मजबूत टीम भेजेगा श्रीलंका

पीसीबी सूत्र ने कहा कि इस तरह के संकेत हैं कि सुरक्षा कारणों से सितंबर-अक्टूबर में सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए पाकिस्तान नहीं आने वाले 10 खिलाड़ियों में से अधिकांश खिलाड़ी टेस्ट टीम का हिस्सा होंगे।

कराची। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को उम्मीद है कि हाल में सीमित ओवरों की श्रृंखला से बाहर रहने का फैसला करने वाले श्रीलंका के शीर्ष क्रिकेटर आगामी दो मैचों की टेस्ट श्रृंखला में खेलने से पीछे नहीं हटेंगे। पीसीबी ने दिसंबर में होने वाले आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के दो मैचों के लिए रावलपिंडी और कराची को आयोजन स्थल के रूप में चुनने की घोषणा की है। पाकिस्तान ने श्रीलंका के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला 2-0 से जीती थी लेकिन टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला में मेजबान टीम को 0-3 से क्लीनस्वीप का सामना करना पड़ा था।

इसे भी पढ़ें: डे-नाइट टेस्ट मैच के लिए क्यूरेटर दलजीत ने पिच पर अधिक घास रखने की सलाह दी

अगर श्रृंखला का आयोजन पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होता है तो यह पाकिस्तान में 10 साल में पहली टेस्ट श्रृंखला होगी। पीसीबी सूत्र ने कहा कि इस तरह के संकेत हैं कि सुरक्षा कारणों से सितंबर-अक्टूबर में सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए पाकिस्तान नहीं आने वाले 10 खिलाड़ियों में से अधिकांश खिलाड़ी टेस्ट टीम का हिस्सा होंगे। सूत्र ने बताया कि श्रीलंका बोर्ड (एसएलसी) ने पीसीबी को बताया है कि अपनी कार्यकारी समिति और सरकार से स्वीकृति लेने के बाद वे एक हफ्ते में टेस्ट दौरे की पुष्टि करेंगे।

इसे भी पढ़ें: रांची स्टेडियम पहुंचे धोनी, शास्त्री बोले-दिग्गज खिलाड़ी को देखना कमाल का अनुभव है

श्रीलंका के जिन 10 खिलाड़ियों ने पाकिस्तान का दौरा नहीं किया था उसमें टेस्ट और एकदिवसीय कप्तान दिमुथ करूणारत्ने, दिनेश चांदीमल, कुसाल परेरा, एंजेलो मैथ्यूज, तिसारा परेरा, निरोशन डिकवेला, धनंजय डिसिल्वा और सुरंगा लकमल शामिल थे। मार्च 2009 में टेस्ट श्रृंखला के दौरान लाहौर में श्रीलंका की टीम को ले जा रही बस पर आतंकी हमले के बाद से पाकिस्तान में टेस्ट मैच का आयोजन नहीं हुआ है।