भारत-ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों को आईपीएल से ‘चुनौतीपूर्ण’ अभ्यास का मौका मिलेगा: चैपल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 13, 2020   13:23
भारत-ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों को आईपीएल से ‘चुनौतीपूर्ण’ अभ्यास का मौका मिलेगा: चैपल

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल का मानना ​​है कि कोविड-19 महामारी के समय क्रिकेट खेलना अतीत के अनुभव से काफी अलग होगा लेकिन आगामी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच साल के आखिर में होने वाली श्रृंखला से पहले दोनों देशों के खिलाड़ियों को ‘चुनौतीपूर्ण’ माहौल में अभ्यास करने का मौका मिलेगा।

नयी दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल का मानना ​​है कि कोविड-19 महामारी के समय क्रिकेट खेलना अतीत के अनुभव से काफी अलग होगा लेकिन आगामी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच साल के आखिर में होने वाली श्रृंखला से पहले दोनों देशों के खिलाड़ियों को ‘चुनौतीपूर्ण’ माहौल में अभ्यास करने का मौका मिलेगा। आईपीएल के 10 नवंबर को खत्म होने के बाद भारतीय टीम के खिलाड़ी वहीं से ऑस्ट्रेलिया रवाना होंगे। ऑस्ट्रेलिया दौरे की शुरूआत टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला से होने की उम्मीद है, जिसके बाद टेस्ट और फिर एकदिवसीय श्रृंखलाएं खेली जाएंगी।

इसे भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने जम्मू में अरुण जेटली स्मारक खेल संकुल की आधारशिला रखी

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण इस बार का आईपीएल संयुक्त अरब अमीरात में खेला जाएगा जिसका आगाज 19 सितंबर को आबुधाबी में होगा। चैपल ने कहा कि चाकचौंध से भरी यह टी20 लीग भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों के लिए आपदा में अवसर की तरह है, क्योंकि महामारी के कारण मार्च के बाद से क्रिकेट की ज्यादा श्रृंखलाएं नहीं हुई हैं। चैपल ने ईएसपीएनक्रिकइंफो डॉट कॉम के अपने कॉलम में लिखा, ‘‘ एक बात तय है कि जहां चाह, वहां राह है, और बेहतर खिलाड़ी समाधान खोजने के लिए समर्पित रहते हैं।’’

इसे भी पढ़ें: इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे वनडे में स्मिथ का खेलना संदिग्ध, अभ्यास के दौरान सिर पर लगी थी चोट

उन्होंने कहा,‘‘ भारतीय खिलाड़ियों और कुछ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की बात करें तो दिसंबर में होने वाली श्रृंखला से पहले उनके पास आईपीएल में चुनौतीपूर्ण क्रिकेट खेलने का मौका होगा।’’ उन्होंने माना कि आईपीएल से शायद टेस्ट मैचों के लिए बेहतर तैयारी नहीं हो सके लेकिन रवि बोपारा के 2009 के प्रदर्शन का उदाहरण देकर समझाया कि इंग्लैंड का यह बल्लेबाज इसके बाद टेस्ट में अच्छा खेला था। उन्होंने कहा, ‘‘आईपीएल खेलने के बाद बोपारा को इंग्लैंड वापस बुलाया गया और जब उनसे पूछा गया कि क्या इससे टेस्ट मैच की तैयारी संभव है तो उन्होंने कहा कि आपको हर मौके पर रन बनाने के लिए लय में होना चाहिये। उन्होंने इसके बाद वेस्टइंडीज के खिलाफ लगातार दो शतक लगाकर खुद को सही साबित किया था।’’ इस 76 साल के दिग्गज ने कहा कि स्वास्थ्य और सुरक्षा नियमों के साथ कोविड-19 युग में घरेलू टीमों पर हावी होना विदेशी टीमों के लिए मुश्किल होगा।

उन्होंने कहा, ‘‘ जैव सुरक्षित स्थल, पृथकवास नियम, सामाजिक दूरी और खेल के तरीकों में कई बदलाव के साथ अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के लिए खिलाड़ियों का ढलना चुनौतीपूर्ण होगा। यह टीम के अंदर भी जीवन को मुश्किल और अलग बनाता है।’’ पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘शारीरिक तैयारी ज्यादा मुश्किल नहीं होगी लेकिन यह देखना होगा कि आप क्रिकेट की मानसिकता में कैसे बने रहते है।’’ चैपल ने कहा कि भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के दौरे से जुड़ी अपनी साख को अच्छी तरह से समझती है और वे श्रृंखला की तैयारियों में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया में होने वाली श्रृंखला को बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी, विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप और उनके व्यक्तिगत गौरव से जोड़ कर देखेंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।