चौथे दिन भी बारिश का खलल, श्रृंखला जीतने के करीब भारत

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 6 2019 2:16PM
चौथे दिन भी बारिश का खलल, श्रृंखला जीतने के करीब भारत

इसके बाद खेल दोबारा शुरू नहीं हो पाया। आस्ट्रेलियाई टीम अब भी भारत से 316 रन पीछे है। अंपायरों ने चाय के विश्राम के बाद एक घंटे तक मौसम में सुधार का इंतजार किया।

सिडनी। भारत बारिश और खराब रोशनी के कारण चौथे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन बड़ी जीत के करीब पहुंचने में नाकाम रहा लेकिन 1988 के बाद आस्ट्रेलिया को पहली बार उसकी सरजमीं पर फालोआन के लिए मजबूर करके टीम इंडिया इस देश में पहली श्रृंखला जीतने की राह पर है।खराब मौसम के कारण चौथे दिन सिर्फ 25.2 ओवर का खेल हो पाया। आस्ट्रेलिया ने फालोआन खेलते हुए दूसरी पारी में चार ओवर में बिना विकेट खोए छह रन बनाए। इससे पहले चाइनामैन स्पिनर कुलदीप यादव (99 रन देकर पांच विकेट) ने आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर पहले ही टेस्ट में पांच विकेट चटकाए जिससे मेजबान टीम पहली पारी में 300 रन पर सिमट गई। खराब रोशनी के कारण जब चाय का विश्राम जल्दी लिया गया तब मार्कस हैरिस दो जबकि उस्मान ख्वाजा चार रन बनाकर खेल रहे थे। 

 
इसके बाद खेल दोबारा शुरू नहीं हो पाया। आस्ट्रेलियाई टीम अब भी भारत से 316 रन पीछे है। अंपायरों ने चाय के विश्राम के बाद एक घंटे तक मौसम में सुधार का इंतजार किया। इसके बाद बारिश दोबारा शुरू हो गई और स्थानीय समयानुसार शाम पांच बजकर 20 मिनट पर अंपायरों ने दिन का खेल खत्म करने का फैसला किया।इससे पहले कुलदीप की फिरकी के जादू के सामने आस्ट्रेलिया की टीम पहली पारी में 104.5 ओवर में 300 रन पर आउट हो गई। मेजबान टीम की ओर से सलामी बल्लेबाज मार्कस हैरिस ने सर्वाधिक 79 रन बनाए। भारत ने 322 रन की बढ़त हासिल करने के बाद आस्ट्रेलिया को फालोआन करने के लिए कहा।सुबह का सत्र बारिश और खराब रोशनी की भेंट चढ़ने के बाद स्थानीय समयानुसार एक बजकर 50 मिनट पर खेल शुरू हुआ।भारत ने सुबह तुरंत ही नयी गेंद ली और टीम को सफलता भी मिली। 
 
मोहम्मद शमी (58 रन पर दो विकेट) ने खेल शुरू होने पर छठी गेंद पर ही पैट कमिंस (25) को बोल्ड कर दिया। कमिंस शमी की नीची रहती गेंद को बिलकुल भी नहीं समझ पाए और अपने स्टंप गंवा बैठे।जसप्रीत बुमराह (62 रन पर एक विकेट) ने पीटर हैंड्सकोंब (37) की धैर्यपूर्ण पारी का अंत किया। हैंड्सकोंब बुमराह की गेंद को विकेटों पर खेल गए।कुलदीप ने नाथन लियोन (00) को पगबाधा करके आस्ट्रेलिया को नौवां झटका दिया। आस्ट्रेलिया ने 44 गेंद के भीतर 22 रन पर तीन विकेट गंवाए। कुलदीप को तुरंत ही पांच विकेट लेने का मौका लेकिन हनुमा विहारी ने मिड आन पर जोश हेजलवुड (21) का कैच टपका दिया जबकि बल्लेबाज ने खाता भी नहीं खोला था।इसके बाद विहारी के कंधे मे भी चोट लगी और हार्दिक पंड्या को उनकी जगह क्षेत्ररक्षण के लिए उतरना पड़ा।हेजलवुड और मिशेल स्टार्क (नाबाद 29) ने 10वें विकेट के लिए 42 रन जोड़कर आस्ट्रेलिया का स्कोर 300 रन तक पहुंचाया। 
 


कुलदीप ने हेजलवुड को पगबाधा करके आस्ट्रेलिया की पारी का अंत किया। हेजलवुड ने डीआरएस का सहारा लिया लेकिन तीसरे अंपायर ने उन्हें आउट करार दिया।भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इसके बाद आस्ट्रेलिया को फालोआन के लिए कहा। इंग्लैंड के खिलाफ नाटिंघम में 2005 के बाद यह पहला मौका है जब आस्ट्रेलियाई टीम को फालोआन के लिए मजबूर होना पड़ा है।घरेलू सरजमीं पर आस्ट्रेलियाई टीम 1988 के बाद पहली बार फालोआन खेल रही है। तब भी उसे इंग्लैंड के खिलाफ सिडनी में ही फालोआन का सामना करना पड़़ा था।इससे पहले लगातार बारिश और खराब रोशनी के कारण सुबह के सत्र में एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी। 
 
 
सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर सुबह निर्धारित समय से आधा घंटा पहले 10 बजे खेल शुरू होना था लेकिन रात भर हुई तेज बारिश और खराब रोशनी के कारण ऐसा नहीं हो पाया। कुछ समय बाद रोशनी में सुधार हुआ और अंपायरों ने 11 बजे मैच शुरू करने का फैसला किया लेकिन इससे पहले बारिश आ गई। इसके बाद लंच के समय तक स्थिति में सुधार नहीं हुआ और सुबह के सत्र में एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी।आस्ट्रेलिया ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक छह विकेट पर 236 रन बनाए थे।भारत ने इससे पूर्व चेतेश्वर पुजारा (193) और ऋषभ पंत (नाबाद 159) की पारियों की बदौलत पहली पारी सात विकेट पर 622 रन बनाने के बाद घोषित की थी।भारत ने एडीलेड में 31 रन और मेलबर्न में 137 रन की जीत के साथ चार मैचों की श्रृंखला में 2-1 की अजेय बढ़त बना रखी है। आस्ट्रेलिया ने पर्थ में दूसरा टेस्ट 146 रन से जीता था।


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Related Story