दबाव की जगह टीम इंडिया को मिला आत्मविश्वास, रोहित के सामने बाकी सब फीका-फीका

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 6 2019 1:35PM
दबाव की जगह टीम इंडिया को मिला आत्मविश्वास, रोहित के सामने बाकी सब फीका-फीका
Image Source: Google

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने मैच जीतने के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि मेरे ख्याल से यह उसकी सर्वश्रेष्ठ वनडे पारी है। विश्व कप के पहले मैच में काफी दबाव रहता है।

साउथम्पटन। विराट कोहली ने रोहित शर्मा को कई बड़े शतक लगाते हुए देखा है लेकिन भारतीय कप्तान का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विश्व कप के पहले मैच में उनकी पारी एक दिवसीय क्रिकेट की उनकी सर्वश्रेष्ठ पारी है। इस प्रारूप में तीन दोहरे शतक बना चुके रोहित ने रोस बाउल की उछालभरी पिच पर 23वां शतक जड़ा। कोहली ने मैच जीतने के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि मेरे ख्याल से यह उसकी सर्वश्रेष्ठ वनडे पारी है। विश्व कप के पहले मैच में काफी दबाव रहता है। उन्होंने कहा कि बतौर बल्लेबाज मैं जानता हूं कि जब गेंद ऐसे उछाल ले रही हो तो अपना स्वाभाविक खेल दिखाना कितना मुश्किल है।

इसे भी पढ़ें: महेला जयवर्धने ने कहा, गेंदबाजी में लगातार बदलाव से MI की टीम को मिली सफलता

कोहली ने कहा कि रोहित की पारी की सबसे बड़ी खूबी थी कि उसने अपना स्वाभाविक आक्रामक खेल नहीं दिखाया और सब्र से खेला। उन्होंने कहा कि कई बार बल्लेबाज यह भूल जाते हैं लेकिन वह संयम के साथ खेला। उसने इतना क्रिकेट खेला है कि हम उससे इसी परिपक्वता की उम्मीद करते हैं। उन्होंने कहा कि मैने उसकी जितनी शानदार पारियां देखी है, मेरी नजर में यह सर्वश्रेष्ठ है क्योंकि किसी भी मुकाम पर उसकी एकाग्रता टूटती नहीं दिखी। कोहली ने कहा कि दूसरे छोर से मैच पर उसका इस कदर नियंत्रण था कि साथी बल्लेबाज अपना स्वाभाविक खेल दिखा सके। रोहित ने इस तरह की पिच पर ऐसे गेंदबाजी आक्रमण के सामने शानदार पारी खेली। मेरी नजर में यह उसकी सर्वश्रेष्ठ पारी है।

इसे भी पढ़ें: टीम इंडिया ने 6 विकेट से दर्ज की जीत, रोहित शर्मा ने जड़ा करियर का 23वां शतक



‘कुल-चा’ यानी कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने भी शानदार गेंदबाजी की। चहल ने चार विकेट लिये और यादव ने रन रोके। कोहली ने कि यह बहुत बड़ा योगदान था। पिछली बार जब हम उनके खिलाफ खेले तो वे हमारे स्पिनरों के खिलाफ सहज नहीं थे। वे स्ट्राइक रोटेट नहीं कर पा रहे थे। उन्होंने टीम के प्रदर्शन को पेशेवर करार देते हुए कहा कि हम सभी ने पेशेवरपन दिखाया। इसमें रन कम बने जबकि वनडे क्रिकेट में आजकल काफी रन बन रहे हैं।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video