घूमने फिरने के लिए विदेश में भारतीयों की पहली पसंद है यूरोप

By रेनू तिवारी | Publish Date: May 29 2018 5:31PM
घूमने फिरने के लिए विदेश में भारतीयों की पहली पसंद है यूरोप

सब कोशिश करते हैं कि कुछ समय निकाल कर रिलेक्स करने के लिए कहीं घूम कर आया जाए। यूं तो भारत अपने आप में एक स्वर्ग है अगर घूमने फिरने, शांति या कुदरत की सुंदरता को निहारना हो तो यहां बहुत सी खूबसूरत जगह हैं।

रोजमर्रा की भागदौड़ भरी जिंदगी में सब कोशिश करते है कि कुछ समय निकाल कर रिलेक्स करने के लिए कहीं घूम कर आया जाए। यूं तो भारत अपने आप में एक स्वर्ग है अगर घूमने फिरने, शांति या कुदरत की सुंदरता को निहारना हो तो यहां बहुत सी खूबसूरत जगह हैं। लेकिन घूमने वालों के लिए आउट ऑफ कंट्री जाने का अपना ही अलग क्रेज होता है और बाहर के देशों में अगर देखा जाए तो घूमने के लिए भारतीयों का पसंदीदा स्थल यूरोप है। ये बात सामने आई है ट्रैवल कंपनी काक्स एंड किंग्स के एक सर्वे में। इस सर्वे के अनुसार घूमने के लिए यूरोप इस साल भी भारतीयों की पसंदीदा जगह बना हुआ है। यूरोप में अगर आप जाते हैं तो तो ऑफिस से लंबी छुट्टियां लेकर जाएं क्योंकि वहां घूमने के लिए बहुत कुछ है। हालांकि लोग अब कम अवधि वाले अवकाश को प्राथमिकता दे रहे हैं।

अगर परिवार के साथ वेकेशन पर जाना चाहते हैं तो देखा जाए तो लंबी छुट्टियां बच्चों के साथ गर्मियों में ही मिल सकती हैं। सर्वे के मुताबिक कुल मिलाकर गर्मियों की छुट्टियों के लिए पिछले साल की तुलना में लगभग 20 प्रतिशत की वृद्धि देखने को मिली है।
 
सर्वे के मुताबिक जहां पर लोग सबसे ज्यादा घूमना पसंद करते हैं वो है फ्रांस और स्विट्जरलैंड जो भारतीय पर्यटकों के लिए घूमने का केंद्र हैं। कुछ पर्यटक इन स्थानों के साथ कुछ और देशों को भी अपने यात्रा मार्ग में जोड़ रहे हैं। इनमें आस्ट्रिया, इटली, नीदरलैंड या फिर जर्मनी को शामिल किया जा रहा है।
 


अगर बात अकेले ट्रेवल करने वालों की करें तो सर्वे के अनुसार उनकी पसंदीदा जगहों में आइसलैंड, यूक्रेन, ग्रीस और क्रोशिया प्रमुख हैं। पश्चिम भारतीय राज्यों के टूरिस्टों की अगर बात करें तो गुजरात और महाराष्ट्र के लोग ठंडे समुद्री तटों वाले स्थानों की यात्रा करना पसंद कर रहे हैं। इन राज्यों के पर्यटक मॉरिशस, रियूनियन आइलैंड और सेशेल्स जैसे देशों में जा रहे हैं। इन दोनों राज्यों से इन पर्यटक स्थलों के लिए मांग 15 प्रतिशत तक बढ़ी है।
 
-रेनू तिवारी

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप



Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.

Related Video