गोवा जाने की सोच रहे हैं तो इन बातों का ध्यान रखें, मजा दोगुना हो जायेगा

  •  ट्रैवल जुनून
  •  फरवरी 11, 2019   16:33
  • Like
गोवा जाने की सोच रहे हैं तो इन बातों का ध्यान रखें, मजा दोगुना हो जायेगा

अगर आप गोवा जा रहे हैं और आपकी दूरी 300 किलोमीटर से ज्यादा है तो ट्रेन की अपेक्षा फ्लाइट से जाना ज्यादा बेहतर रहता है। ऐसा कर न सिर्फ आप समय बचाते हैं बल्कि थकान से भी बचते हैं और अच्छे से इंजॉय कर पाते हैं।

ये आर्टिकल मूलतः Travel Junoon पर प्रकाशित किया गया है।

30 सितंबर 2018 से 4 अक्टूबर 2018 तक मैं गोवा (Goa) की यात्रा पर था। इस सफर के लिए मैंने महीनों पहले से तैयारी की थी। एक्साइटमेंट खूब थी। पत्नी और बेटी साथ थी इसलिए इन्हें लेकर कॉन्शियस भी था। मैंने अपनी 5 दिनों की गोवा (Goa) यात्रा में कई पलों को एन्जॉय किया और गोवा (Goa) से ढेर सारे अनुभव लेकर लौटा हूं। एक बिंदास घुमक्कड़ के तौर पर, परिवार के तौर पर और मौज-मस्ती तलाशने वाले शख्स के रूप में गोवा (Goa) की हर वो बात मैं आपसे साझा करना चाहूंगा जिसे जानकर आपका गोवा (Goa) का सफर और भी बेहतर हो सकेगा।

गोवा (Goa) महाराष्ट्र और कर्नाटक के बीच बसा एक छोटा सा राज्य है। यूं तो गोवा (Goa) को लेकर यूथ ही ज्यादा क्रेजी दिखाई देते हैं। बीयर और खान-पान के साथ साथ गोवा (Goa) की लाइफस्टाइल यूथ को खासा आकर्षित करती है। लेकिन अगर आप कुछ बातों को ध्यान में रखें तो आपका गोवा (Goa) का सफर और भी यादगार बन सकता है और छोटी छोटी गलतियों से होने वाले बड़े बड़े नुकसान से आप बचे रह सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः मेघालय में है एशिया का सबसे स्वच्छ गांव, जो भारत के शहरों को मुंह चिढ़ाता है

सफर कैसे करें ?

गोवा (Goa) में ओला-ऊबर नहीं है। यह एक छोटा राज्य है लेकिन ट्रैवलर्स के अंदर इसे लेकर आकर्षण बहुत बड़ा है। ध्यान रखिए कि यही वजह है कि आपको यहां खाने पीने से लेकर कहीं भी आने जाने के लिए काफी जेब ढीली करनी पड़ती है। 3-4 किलोमीटर के लिए अगर आप टैक्सी करते हैं तो उसका किराया 300-400 रुपये होता है। यहां आने जाने के लिए ट्रैवलर्स किराए की स्कूटी या कार का सहारा लेते हैं लेकिन इसके लिए भी आपको फुल प्लानिंग करने की जरूरत होती है।

गोवा (Goa) के लिए आपका सफर होटल रूम या डबोलिम एयरपोर्ट से शुरू नहीं होता है। गोवा (Goa) के लिए आपका सफर दिल्ली, जयपुर, भोपाल, चेन्नई, लखनऊ, कोलकाता, सिलचर, गुवाहाटी, रांची, जम्मू, चंडीगढ़, शिमला या जिस भी शहर के अपने घर से आप गोवा (Goa) जा रहे हैं, वहां से शुरू होता है। अगर आप ट्रेन से जा रहे हैं तो भी और अगर आपने फ्लाइट से बुकिंग की है तो एयरपोर्ट या स्टेशन पहुंचने के लिए सार्वजनिक परिवहन प्रणाली का ही इस्तेमाल करें। अगर सामान ज्यादा है और आपके साथ फैमिली है तो आप कैब कर सकते हैं। सार्वजनिक परिवहन प्रणाली न सिर्फ आपके पैसे बचाती है बल्कि बात बात पर कैब पर पैसे खर्च करने वाली आपकी आदत भी बदलती है।

एयरपोर्ट या स्टेशन पहुंचने के बाद आपका सफर आगे बढ़ता है। अगर आप नॉर्थ गोवा (North Goa) में ठहरना चाह रहे हैं तो कलंगुट बीच (calangute beach) के आसपास का एरिया आपके लिए एकदम मुफीद रहता है। यहां से बागा बीच (Baga Beach) भी पास में है। अगुडा का किला, चाबोर फोर्ट, अंजुना बीच आप यहां से आसानी से पहुंच सकते हैं। गोवा एयरपोर्ट (Goa Airport) या वास्को व मझगांव स्टेशन से आपको यहां पहुंचाने के लिए कैब्स भी मिल जाएंगी लेकिन पहले दूरी जरूर समझ लें। वास्को रेलवे स्टेशन से कलंगुट बीच (calangute beach) की दूरी 40 किलोमीटर से ज्यादा की है और गोवा एयरपोर्ट इससे कुछ किलोमीटर कम पड़ता है। अगर आप चाहें तो सार्वजनिक परिवहन का बखूबी इस्तेमाल अपने होटल तक पहुंचने के लिए कर सकते हैं।

गोवा (Goa) में स्कूटी ट्रैवलर्स का फेवरेट साधन है। मैंने भी अपनी 5 दिनों की यात्रा के दौरान यहां स्कूटी ही किराए पर ली थी। चूंकि मेरी यात्रा ऑफ सीजन में थी और गोवा (Goa) आने का बेस्ट सीजन मिड अक्टूबर से मार्च तक का होता है इसलिए मुझे ये स्कूटी 400 रुपये प्रति दिन में मिल गई थी। हालांकि इसके लिए भी मुझे करीब आधे घंटे तक मोलभाव करना पड़ा था। ऑफ सीजन में वैसे ये स्कूटी 300 या साढ़े 300 रुपये प्रति दिन के रेट पर मिलती है। आप इस स्कूटी से गोवा (Goa) में कहीं भी आराम से पहुंच सकते हैं। अगर आपके साथ ज्यादा लोग या परिवार है तो आप कार किराए पर ले सकते हैं। कार का प्रतिदिन किराया 1200 रुपये या इससे थोड़ा ज्यादा है।

सीजन में कार-स्कूटी या बाइक के रेट सातवें आसमान पर होते हैं। इसलिए इसमें 7 गुना तक की बढ़ोतरी हो जाती है। कार या स्कूटी आप दिन में लें या रात को, आपका एक दिन उसमें जुड़ जाता है और आपको सुबह 9 बजे इसे लौटाना होता है। ऐसी कंडीशन में आप जितनी सुबह सौदा पटा लें, अच्छा रहेगा। और हां आपको जब स्कूटी या कार किराए पर मिलता है तो उसमें पेट्रोल और डीजल बेहद कम या उतना कि आप पेट्रोल पंप पहुंचकर उसे भरवा सकें, उतना होता है। ऐसे में आप भी उसमें थोड़ा थोड़ा पेट्रोल-डीजल ही भरवाएं, ज्यादा ऑइल भरवाने से संभव है कि आप उसे खर्च न कर सकें और आप उस तेल के साथ ही गाड़ी को लौटाएं। इससे नुकसान आपका ही होगा।

इसे भी पढ़ेंः घूमने का शौक है तो यह 5 बातें ध्यान रखिये, रास्ते में कमाई भी होती रहेगी

हां, यहां एक बात और जिसका ध्यान कम यात्री ही रखते हैं। स्कूटी और कार को इस्तेमाल कैसे करना है। ध्यान रहे कि आप भी किसी वाहन के मालिक होंगे और उसका ख्याल भी रखते होंगे, अगर अपना यही वाहन आप किसी को दें तो उससे भी ऐसी ही उम्मीद करते होंगे। इसलिए आप वाहन का पूरा ख्याल रखें और उसे सलीके से इस्तेमाल करें। मुझे जो स्कूटी मिली वह अव्वल दर्जे की कंडीशन में थी। मैं आम बोलचाल में कहूं तो एकदम मक्खन जैसी चल रही थी और मैंने भी उसे इस तरह इस्तेमाल किया मानों अपनी ही स्कूटी चला रहा होऊं।

गोवा (Goa) छोटा है और अगर आप नॉर्थ (North Goa) में रुके हैं तो नॉर्थ में और अगर साउथ (South Goa) में हैं तो साउथ के सभी इलाकों को आसानी से इससे कवर कर सकते हैं। गोवा का ट्रैफिक काफी स्मूद है। ट्रैवलर्स की भारी भीड़ के बाद भी यहां एक सुकून आपको दिखाई देगा जो दिल्ली जैसे शहरों में आप वीकेंड में भी नहीं देख पाते हैं।

सरकार की बस है बेस्ट ऑप्शन

Goa Hop On Hop Off Bus शहर घूमने के लिए बेस्ट है। यह आपको नॉर्थ और साउथ गोवा का अलग अलग टूर कराती है और वह भी 300 रुपये के किराए में। यह स्कूटी या टैक्सी से कई गुना बेहतर ऑप्शन है। गोवा में रोडवेज की बसें भी उपलब्ध रहती हैं लेकिन उनमें लोकल यात्री ज्यादा सफर करते हैं इसलिए आपके लिए Goa Hop On Hop Off Bus ही बेस्ट ऑप्शन है। इस बस के जरिए आप उन जगहों को आसानी से एक्सप्लोर कर सकते हैं जिनकी जानकारी आपको नहीं होती है।

खाने की बड़ी टेंशन है! पीने की नहीं

अगर आप ड्रिंक करते हैं और नॉन वेज के शौकीन है तो सच मानिए गोवा आपके लिए ही है और अगर आप मेरी तरह हैं ड्रिंक नहीं करते हैं और वेजिटेरियन हैं तो गोवा आपको परेशान कर देगा। हालांकि जेब आपको दोनों ही मामलों में ढीली करनी होगी। गोवा में बीयर या शराब दिल्ली जैसे शहरों से काफी सस्ती है। ये महंगी तब हो जाती है जब आप इन्हें शेक (समंदर के किनारे बने रेस्त्रां) या रेस्टोरेंट में बैठकर पीते हैं। ऐसा करने पर इनका चार्ज दोगुना हो जाता है। मेरे एक दोस्त ने कहा था कि उसने अपनी गोवा ट्रिप में बीयर खरीदकर होटल के ही कमरे में उपलब्ध रेफ्रीजरेटर में रख ली थी। वह बीयर वहीं से लेकर पीता था और एक बार भी होटल या रेस्टोरेंट में ड्रिंक नहीं किया। आप अगर लिकर के शौकीन हैं तो ऐसा कर सकते हैं। ध्यान रहे कि शराब का सेवन सेहत के लिए हानिकारक होता है।

गोवा में नॉन वेज खाने वालों की बहार है। मैं शाकाहारी हूं और मैंने जितनी जगह भी खाना खाया, सभी नॉन वेजिटेरियन थे इसलिए मुझे शाकाहारी खाने का जायका बिल्कुल नहीं मिला जबकि मैंने पैसे ज्यादा खर्च किए। लास्ट डे ओल्ड गोवा चर्च के पास मुझे एक शुद्ध शाकाहारी रेस्टोरेंट मिला जहां मैंने डोसा और कश्मीरी पुलाव ऑर्डर किए। इन दोनों व्यंजनों को खाने के बाद मेरी दिल्ली वाले खाने की तृष्णा शांत हुई। अगर आप भी शाकाहारी हैं तो ऐसे ही रेस्त्रां में खाएं जो 100 पर्सेंट वेजिटेरियन हों। और हां शेक या समंदर किनारे लंच या डिनर से परहेज ही करें, यहां कीमत बेहद ज्यादा रहती है।

इसे भी पढ़ेंः शिगार घाटी घूमने आइए, यहाँ आपको कई ऐतिहासिक स्थल मिलेंगे


होटल की बुकिंग और फ्लाइट की बुकिंग कैसे करें

अगर आप गोवा जा रहे हैं और आपकी दूरी 300 किलोमीटर से ज्यादा है तो ट्रेन की अपेक्षा फ्लाइट से जाना ज्यादा बेहतर रहता है। ऐसा कर न सिर्फ आप समय बचाते हैं बल्कि थकान से भी बचते हैं और अच्छे से इंजॉय कर पाते हैं। फ्लाइट थोड़ी महंगी जरूर पड़ती है लेकिन अगर आप प्लानिंग के साथ इसे 30 दिन से 90 दिन पहले करा लें तो सस्ते में काम बन सकता है।

बात होटल की। आप कोई भी होटल चुनें, 3 स्टार या 4 स्टार, उसकी रेटिंग और गेस्ट एक्सपीरियंस जरूर जान लें। रिव्यू जानकर आप अपनी अडवांस बुकिंग करा लें। और साथ में यह भी सुनिश्चित कर लें कि वहां ब्रेकफास्ट एवेलेबल हो। ब्रेकफास्ट अमाउंट आपकी बुकिंग में ही ऐड हो जाता है। मैंने ऐसा ही किया था। इससे आपको मदद मिलेगी।

अगर प्रेमिका या पत्नी है साथ में

अगर आप गर्लफ्रेंड या पत्नी के साथ गोवा जा रहे हैं तो नाइट कलब्स, बीच, नाइट लाइफ आप ही का इंतजार कर रही है। ऐसे कई नाइट क्लब्स हैं जहां गर्ल्स की फ्री एंट्री होती है और उनके लिए ड्रिंक्स भी फ्री रहती है। टीटोड लेन (Tito’s Lane) में ऐसे कुछ क्लब्स हैं। आप यहां का मजा ले सकते हैं।

अगर परिवार साथ है तो

अगर आपने फैमिली के साथ गोवा ट्रिप प्लान की है तो मरिवल बीच, डोला पोला बीच, अगुडा फोर्ट, चापोरा फोर्ट, कोको बीच से होने वाली बोट राइट जिसमें आप समंदर में डॉल्फिन देख सकते हैं, क्रूज राइड आदि का मजा ले सकते हैं। समंदर में डॉल्फिन देखने का मजा शानदार रहता है। बच्चे इसे बेहद इन्जॉय करते हैं। ओल्ड गोवा चर्च (Old Goa Church) हर किसी के लिए बेस्ट रहेगा।

मोबाइल का ख्याल रखें

हम लोग कलंगुट बीच पर इंजॉय करने गए थे। मैंने अपने दोनों फोन तट से थोड़ी दूरी पर रखे हुए थे। एक फोन तो मैंने ट्रिप से कुछ ही दिन पहले खरीदा था जिसकी कीमत 20 हजार रुपये थे। हम समंदर में मस्ती कर रहे थे लेकिन एक लहर फोन को बहा ले गई। जैसे तैसे दोनों फोन मैंने पकड़े। एक तो बच गया था लेकिन नया फोन पूरी तरह खराब हो गया। समंदर का खारा पानी फोन में घुसते ही उसे खराब कर देता है। आप ऐसा करने से बचें। पहली चीज तो बीच पर फोन लेकर ही न जाएं, अगर जाएं तो उसे पॉलिथिन में कवर कर अपनी ही किसी जिम्मेदार साथी को थमा दें फिर तट के पास जाएं।

लड़कियों के लिए काम की बात

देश के किसी भी शहर में लड़कियों की ड्रेस को लेकर काफी बातें होती हैं लेकिन गर्ल्स ध्यान रखें कि गोवा (Goa) अरमानों को पूरा कर लेने का शहर है। यहां आप कुछ भी पहन कर रात को बेधड़क घूम सकती हैं। मैंने कॉलेज गर्ल्स से लेकर ऑफिस गोइंग लड़कियों के ग्रुप टूर देखें। लड़कियों की ड्रेस यहां कई इश्यू है ही नहीं। आप स्लीवलेस, शॉर्ट्स, बिकनी, कुछ भी पहन कर अपनी ट्रिप को इंजॉय कर सकती हैं।

ट्रैवल जुनून

फेसबुक लिंक- www.facebook.com/traveljunoon







This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept